newsdog Facebook

एयरपोर्ट पर रूल तोड़ने पर अब देना होगा 25 गुना तक जुर्माना

indiahallabol.com 2017-08-10 05:30:00

एयरपोर्ट पर नियम तोड़ने पर अब आपको भारी जुर्माना अदा करना पड़ेगा। एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने हाल ही में जुर्माने की रकम को 10 से 25 गुना तक बढ़ा दिया है। जैसे, अब तक नो-पार्किंग में गाड़ी पार्क करने पर 200 रुपए का जुर्माना वसूला जाता था। इसे 15 गुना बढ़ाते हुए 3000 रुपए कर दिया गया है। इसी तरह एयरपोर्ट पर पान-गुटखा थूकने पर 200 रुपए जुर्माना लगता था, अब 2000 रुपए लगेगा।

नए नियम जल्द ही सभी एयरपोर्ट पर लागू किए जाएंगे।इसी तरह, ऑपरेशन एरिया में कचरा फेंकने पर अब तक 500 रुपए जुर्माना लगता था, अब 5000 रुपए लगेगा।एयरपोर्ट पर पान-गुटखा थूकने पर 200 रुपए जुर्माना लगता था, अब 2000 रुपए लगेगा।पैसेंजर ट्रॉली का मिसयूज करने पर 200 रुपए जुर्माना लगता था, अब 2000 रुपए लगेगा।  

एयरपोर्ट कैम्पस में कचरा फेंकने पर 200 रुपए फाइन लगता था, अब 2000 रुपए लगेगा।ड्यूटी पर तैनात लोगों से बदतमीजी करने पर 200 रुपए फाइन देना पड़ता था, अब 2000 रुपए देना पड़ेगा।एयरपोर्ट पर किसी भी तरह की गलत हरकत पर 200 रुपए फाइन लगता था, अब 5000 रुपए लगेगा।एयरपोर्ट पर रॉन्ग साइड में वाहन चलाने पर 200 रुपए फाइन देना पड़ता था, अब 5000 रुपए देना होगा।

भारत सहित 80 देशों के नागरिक अब बिना वीजा के ही कतर जा सकते हैं। कतर ने भारत के अलावा जिन देशों को यह छूट दी है उनमें ब्रिटेन, अमेरिका, कनाडा, साउथ अफ्रीका, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड भी हैं।कतर की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है कि इन 80 देशों के नागरिकों को कतर आने के लिए अब वीजा की जरूरत नहीं है। यहां आने के बाद उन्हें एक छूट पत्र दिया जाएगा।

इसके लिए पैसेंजर्स के पास वैलिड पासपोर्ट और रिटर्न टिकट होनी चाहिए। विजिटर की नेशनैलिटी के आधार पर, छूट पत्र या तो 180 दिनों के लिए मान्य होगा, और विजिटर को कतर में कुल 90 दिन बिताने की छूट होगी या यह 30 दिनों के लिए वैलिड होगा, जो विजिटर को 30 दिन बिताने की इजाजत देगा।कतर टूरिज्म अथॉरिटी के एक्टिंग चेयरमैन हसन अल इब्राहिम ने कहा कि वीजा मुक्त एंट्री की व्यवस्था करके कतर क्षेत्र का सबसे खुला देश बन गया है।

अमेरिका एयरपोर्ट एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया एयरपोर्ट कैम्पस ऑस्ट्रेलिया कनाडा जुर्माना नो-पार्किंग न्यूज़ीलैंड पान-गुटखा थूकने फाइन ब्रिटेन भारत भारी जुर्माना साउथ अफ्रीका 2017-08-10 kaamkajimahila