newsdog Facebook

कन्नौज में अंधविश्वास हावी, नीबू-मिर्च और नीम के पत्तों का लिया सहारा

Eenadu India 2017-08-10 19:00:00

चोटी कटवा के भय से दरवाजे पर लगाये नीम के पत्ते।


कन्नौज। यूपी में चोटी कटवा की दहशत अंधविश्वास की वजह से लोगों पर हावी हो रही है। अफवाहों के कारण जगह-जगह टोटके किए जा रहे हैं। लोग नीबू-मिर्च का सहारा लेने के साथ दरवाजे पर रंग व गोबर की थाप भी लगा रहे हैं तो कहीं - कहीं पर लोग नीम के पेड़ के पत्ते भी दरवाजे पर लटका रहे है। हालांकि, पुलिस शरारती तत्वों की तलाश में जुटी है।


महिलाओं की चोटी कटने का सिलसिला जारी है। गुरूवार शाम तक फिर छः महिलाओं की चोटी कट गई। कन्नौज के सराय प्रयाग गांव निवासी मोबीन खान की पत्नी की देर शाम चोटी कट गई। जिसके बाद वह बेहोश होकर आंगन में गिर पड़ी। बेहोशी की हालत में परिजनों ने महिला को अस्पताल में भर्ती कराया।

पढ़ें -

इसी तरह समधन कस्बा निवासी शकील खां की पुत्री के साथ भी चोटी कटने की घटना हुई। उसको अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा। इंदरगढ़ के त्रिलोकपुर गांव में सुरेश पाल की पत्नी की चोटी भी कटी मिली। बेहोश होने पर परिजन अस्पताल ले गए। इसी तरह छिबरामऊ के भटपुरी निवासी लक्ष्मण सिंह की पत्नी की चोटी भी बुधवार देर शाम खाना बनाते समय कट गई।

पढ़ें :-

चपुन्ना इलाके के कोरियन नगला गांव निवासी शिवकुमार की पत्नी आरती की चोटी भी कट गई। वह बेहोश हो गईं। इससे ग्रामीणों की भीड़ लग गई। इसी तरह गुरूवार को भी सरायमीरा क्षेत्र के मोहल्ला हर्ष नगर में एक महिला की चोटी कट गयी। लेकिन अभी तक कोई महिला चोटी कटने की सही वजह नहीं बता पा रही है। लगातार चोटी कटने के मामले सामने आने से महिलाएं भी दहशत में है। इस डर से बचने के लिए महिलाएं तरह- तरह के प्रयास कर रही है।