newsdog Facebook

जो मन में आए करें, मैं 2019 में देखूंगा

Divya Himachal 2017-08-11 00:00:00

गैरहाजिर रहने वाले भाजपा सांसदों पर बरसे मोदी, अमित शाह ने कोर्ट जाने का दिया इशारा

नई दिल्ली— प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीजेपी संसदीय दल की बैठक के दौरान सांसदों की जमकर क्लास लगाई है। उन्होंने कहा कि अब अध्यक्ष राज्यसभा में आ गए हैं, आपके मौज-मस्ती के दिन बंद हो जाएंगे। मोदी ने कहा कि आप लोग अपने आपको क्या समझते हैं, आप कुछ भी नहीं हैं, मैं भी कुछ नहीं हूं जो है बीजेपी एक पार्टी है। मोदी ने कहा कि यह तीन लाइन का व्हिप क्या है, बार-बार व्हिप क्यों देना पड़ता है। अटेंडेंस के लिए क्यों कहा जाए, जिसको जो करना है करिए, 2019 में मैं देखूंगा। बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह समेत सभी बीजेपी सांसदों ने बैठक में हिस्सा लिया। बैठक में पीएम मोदी ने अमित शाह का लड्डू खिलाकर स्वागत किया। बैठक के दौरान बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने बड़े संकेत दिए हैं। उन्होंने कहा कि पता नहीं कल को कोई अगर कोर्ट चला जाए तो। खबर है कि अमित शाह अहमद पटेल वाले मामले में कोर्ट जाने की मांग कर रहे हैं। बता दें कि इससे पहले भी गुजरात के सीएम विजय रुपानी ने भी कहा था कि वह चुनाव आयोग के फैसले से खुश नहीं हैं और कोर्ट जा सकते हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सदन में सांसदों की उपस्थिति के मुद्दे को उठाते हुए एक बार फिर कहा कि सदन में सांसदों को उपस्थित रहना चाहिए। अमित शाह ने गुजरात चुनाव के बारे सांसदों को बताया कि किस तरह से तीनों सीटों के चुनाव हुए। गुजरात राज्यसभा चुनाव खत्म होने के बाद यह पहली संसदीय दल की बैठक है, वहीं मानसून सत्र खत्म होने से पहले यह आखिरी बैठक थी।

एक संकल्प लें, उसे 2022 तक पूरा करें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भाजपा के प्रत्येक सांसद को आजादी की 75वीं वर्षगांठ, 2022 तक भारत को महान देश बनाने के लिए कम से कम एक कार्य अपने हाथ में लेकर उसे पूरा करने का गुरुवार को आह्वान किया। श्री मोदी ने भाजपा संसदीय दल की साप्ताहिक बैठक में ‘संकल्प से सिद्धि’ कार्यक्रम का उल्लेख करते हुए सांसदों से कहा कि वे 15 से 30 अगस्त के बीच संकल्प यात्रा करके 2022 तक भारत को महान बनाने के लिए कोई कार्य चुनें और पांच साल में उसे पूरा करने का संकल्प लें। उन्होंने देश को गरीबी, भुखमरी, छुआछूत, गंदगी, जातपात और सांप्रदायिकता की बुराई से मुक्त करने में भाजपा सांसदों से आगे आने का संकल्प लेने को प्रेरित किया।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !