newsdog Facebook

...और बड़ी शान से मेट्रो के अंदर टहलते रहे बंदर राजा

Samachar Plus 2017-09-12 04:41:56
 Tweet

नई दिल्लीः एनसीआर की लाइफलाइन मेट्रो में यात्री सुरक्षा में तमाम तरह की खामियां सामने आ रही हैं। कभी एस्कलेटर बंद होने की खबरें आती है तो कभी ओवरहेड वायर में फॉल्ट से मेट्रो रुक जाती है। दो दिन पहले चलती मेट्रो का एक दरवाजा अचानक खुल जाने से यात्रियों की सांसे अटक गई थीं। अब चलती मेट्रो में एक बंदर के आ जाने सुरक्षा से खिलवाड़ की सारी हदें पार हो गई है। चलती मेटृो में यह बंदर बड़ी ही शान से एक कोच से दूसरे कोच की ओर जाता नजर आया। गनीमत है कि बंदर की वजह से यात्रियों में कोई पैनिक नहीं आया। यात्री अपनी सीटों पर शांत होकर बैठे रहे और बंदर एक कोच से दूसरे कोच की ओर जाता रहा।

नए मुसाफिर को देखकर चैक गए
-वाकया कश्मीरी गेट-फरीदाबाद मेट्रो लाइन का है। वॉयलेट लाइन के बाटा चैक स्टेशन के पास एक भारी भरकम बंदर मेट्रो के अंदर घुस आया। मेट्रो के इस नए मुसाफिर को अपने बीच पाकर सफर कर रहे बाकि लोग हैरान रह गए।
-साथ ही डर भी गए और वो इसलिए कि बंदर कहीं किसी मुसाफिर पर हमला न कर दें। लेकिन, बंदर ने भी जैसे मेट्रो के कायदे कानून सीख रखे थे, बंदर एक कोच को पार करते हुए दूसरे कोच में बड़ी शान से घूमता रहा, लेकिन किसी को नुकसान नहीं पहुचाया।
-इसी बीच किसी मुसाफिर ने मेट्रो के अंदर घूम रहे बंदर का वीडियो बना लिया, जिसमें बंदर शान से तफरीह करते हुए नजर आ रहा है। हालांकि यह वीडियो कब का है, यह पता नहीं चल सका है।
जानकारी होने से इनकार
-दूसरी ओर दिल्ली मेट्रो रेल कार्पोरेशन लिमिटेड के अधिकारियों ने इस तरह की किसी भी घटना की जानकारी होने से इनकार किया है। डीएमआरसी के अफसरों के मुताबिक हाल के दिनों में फरीदाबाद में मेट्रो के अंदर बंदर होने की किसी घटना की जानकारी नहीं है। 
-हालांकि ये कोई पहला मामला नहीं है जब बंदर मेट्रो की सवारी करते हुए कैमरे में कैद हुआ हो। इसके पहले भी कई बार ऐसी घटनाएं हुई हैं जब बंदर न सिर्फ मेट्रो के भीतर घुस आया बल्कि खूब धमा चैकड़ी भी मचाई। इसके पहले एक बार रिठाला मेट्रो स्टेशन पर भी बंदर मेट्रो के अंदर घुस आया था और उसने यात्रियों का सामान तक छीन लिया था।
-डीएमआरसी के एक अधिकारी के मुताबिक मेट्रो के कई स्टेशन ऐसे हैं, जिनके आसपास बंदर बड़ी तादाद में पाये जाते हैं। अक्सर ऐसी घटनाएं मेट्रो के शुरुआती या आखिरी स्टेशन पर होती है, जहां ट्रेन खाली होती है और ज्यादा देर तक खड़ी रहती है।
 

Add Comment servendra -->

more...