newsdog Facebook

जानिये क्यो हाथ और पैर क्यों कांंपते हैं

Kor Group 2017-10-10 18:39:07

क्या हाथ और पैर का कापना अभी शुरू हुआ है या पहले से  होता था ? क्या यह आपको तब होता है जब आप गुस्से में होते हैं? या यह किसी बीमारी के होने की शुरुवात है।

क्या आपके हाथ या पैर कांंपते हैं? क्या हाथ और पैर का कापना अभी शुरू हुआ है या पहले से होता था ? क्या यह आपको तब होता है जब आप गुस्से में होते हैं? या यह किसी बीमारी के होने की शुरुवात है। इसका कोई भी कारण हो सकता है। लेकिन अगर चिकित्सा विशेषज्ञों की भाषा  में कहा जाए तो इसे “ट्रेमर” नाम से जाना जाता है।

कपकपी आने के कारण डॉक्टरों का अनुसार इस कपकपी आने का कारण ट्रेमर हो सकता है। यह एक तरह का नर्वस डिसऑर्डर है जिसमें पहले हाथ कापने लगते हैं, बाद में यह धीरे धीरे शरीर में फैलने लगती है। यही नहीं इससे कभी कभी आवाज भी कपकपाने लगती है। इस बीमारी में सबसे पहले हाथों पर असर  होता है। ट्रेमर वैसे तो इतनी खतरनाक बीमारी नहीं है। लेकिन अगर इस बीमारी की वजह से किसी के हाथ कापते हैं तो यह उसके लिए मुश्किलें खड़ी कर सकती है।

40 की उम्र या उसे अधिक के लोगों में यह बीमारी देखने को मिलती है। लेकिन यह इस उम्र में क्यों होता है इस पर शोध हो रहें हैं। हाथों की कपकपी से पार्किंसन रोग होता है हाथों में कपकपी आना पार्किंसन रोग जैसी बीमारी को जन्म  देता है, जो आज दुनिया भर में फ़ैल रही है। यह जरुरी नहीं कि हर अल्जाइमर के मरीज़ को हाथ कांपने की शिकायत हो। लेकिन यह लक्षण कई मरीजों में देखने को मिलें है। मल्टीपल स्क्लेरोसिस इस बीमारी में मरीज़ का प्रतिरक्षा प्रणाली, दिमाग और नसें प्रभवित होती हैं, जिससे हाथ कापने लगते हैं।

अन्य लक्षण : अगर आपके हाथ कापते हैं, तो हो सकता है आपको कोई बीमारी ना हो। यह कभी कभी कुछ चीज़ों की कमी की वजह से भी होती है। विटामिन बी 12 की कमी विटामिन बी 12 की कमी से आपका तंत्रिका तंत्र प्रभावित होता है, जिससे हाथ कापने लगते हैं। इसलिए जरुरी है कि आप अंडे (eggs), मछली (fish), और दूध (milk) से बनी चीज़ें खाएं।

ड्रग्स – वे सभी दवाएं खाना बंद कर दें। जिससे डोपामाइन नाम का रसायन दिमाग में बनना बंद हो जाता है। क्योंकि इससे भी हाथ में कपकपी होने लगती है। डैमेज नर्व हाथ और पैरों में इसलिए भी कपकपी आ सकती है, अगर आपको कोई चोट लगी हो, जिससे आपकी नसों को नुकसान हुआ है।

तनाव – आज की तनावपूर्ण जीवन शैली में जिन लोगों को बहुत गुस्सा आता है या जिनकी नींद नहीं पूरी होती हैं उन्हें ट्रेमर जैसी बीमारी होने का डर रहता है। लो ब्लड शुगर इससे शरीर में तनाव से लड़ने की छमता कम हो जाती है जिसे व्यक्ति के हाथ कापने लगते हैं।

Image Copyright: nuskhe.in