newsdog Facebook

यही है वो कारण, जिसकी वजह से सभी भगवानों में कुबेर के पास है सबसे ज्यादा पैसा

Haribhoomi 2017-10-11 17:50:00

कुबेर को जहां धन का देवता माना गया है वहीं लक्ष्मी को धन की देवी का दर्जा दिया गया है। धर्म ग्रंथों में ऐसा भी वर्णन है कि लक्ष्मी जी तो सौभाग्य की देवी हैं। लेकिन फिर भी धन के देवता का जब नाम आता है तो सबसे पहले कुबेर ध्यान में आते हैं।

इसे भी पढ़ें: धनतेरस 2017 : ऐसे भरेगी आपकी तिजोरी

कुबेर को यक्ष की उपाधि दी गई है जिस वजह से इनका काम धन को बांटना और रक्षा करना है। शायद बहुत कम लोग ही जानते हैं कि कुबेर को इतनी बड़ी और विशाल संपत्ति का मालिक किसने बनाया। कहते हैं कि धन के देवता कुबेर के घर से कभी भी धन की कमी नहीं होती है।

इसे भी पढ़ें: धनतेरस 2017: शुभ मुहूर्त

इन कारणों में सबसे मुख्य है भगवान ब्रह्मा के द्वारा इन्हें समस्त संपत्ति का स्वामी बनाया जाना। जब ब्रह्मा जी ने भगवान कुबेर को यह वरदान दिया कि अब तुम जितने भी धन-संपत्ति हैं उस सब का मालिक हो गए हो। तब से भगवान कुबेर को धन और संपत्ति के देवता के रूप में जाना जाने लगा। रामायण में एक कथा है जिसमें वर्णन है कि भगवान कुबेर ने हिमालय पर्वत पर शिव जी को प्रसन्न कने के लिए घोर तप किया था। जिससे प्रसन्न होकर भगवान शिव ने भी इन्हें धनपाल की पदवी देकर सभी प्रकार के धनों का स्वामी बनाया।