newsdog Facebook

ताजुद्दीन बाबा का सालाना उर्स 14 अक्टूबर से

Nagpur Today 2017-10-12 20:27:17


नागपुर: सर्वधर्म समभाव के प्रतीक सूफी संत हजरत बाबा सैयद मोहम्मद ताजुद्दीन औलिया रहमतुल्लाह अलैह का सालाना उर्स ताजाबाद शरीफ, उमरेड रोड में 14 से 21 अक्तूबर तक मनाया जा रहा है. हजरत बाबा ताजुद्दीन ट्रस्ट की ओर से इसकी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं. इस वर्ष देश भर से यहां आने वाले जायरीनों के लिए ताजाबाद दरबार का नजारा और अनुभव बहुत खास होगा क्योंकि उन्हें पिछले वर्ष भर में यहां बहुत सारे रचनात्मक बदलाव और सुविधाएं नजर आएंगी. ट्रस्ट के प्रशासक गुणवंत कुबड़े ने बताया कि उर्स का शुभारंभ शनिवार, 14 अक्तूबर को होगा. उर्स के आगाज का समारोह सुबह 11 बजे होगा. प्रमुख अतिथि केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी, पालकमंत्री चंद्रशेखर बावनकुले, महापौर नंदा जिचकार व विधायक सुधाकर कोहले रहेंगे.

इससे पूर्व ‘परचम कुशाई’ की रस्म सुबह 9 बजे सज्जादानशीन हजरत सैयद यूसुफ इकबाल ताजी के मार्गदर्शन में श्रीमंत पंचम राजे रघुजीराव भोसले के हाथों होगी. भोसले परिवार को हजरत बाबा ताजुद्दीन की विशेष कृपा प्राप्त हुई थी इसलिए राज परिवार के वंशजों द्वारा ही बाबा ताज के उर्स में परचम कुशाई की परंपरा है. अध्यक्षता जामिया अरबिया इस्लामिया के प्रमुख मुफ्ती मोहम्मद अब्दुल कदीर खान करेंगे. उसके पूर्व शाही मस्जिद के इमाम मौलाना अल्हाज बायजीद खान तिलावते कलाम पाक पेश करेंगे. अतिथि खानकाहे अशरफिया अंसारनगर के सज्जादानशीन फाजिले जामेया हजहर मिस्र हजरत अल्लामा मौलाना मुफ्ती मो. जहांगीर अशरफ मिस्बाही रहेंगे.

18 को निकलेगा शाही संदल
बाबा की छब्बीसवीं के दिन बुधवार, 18 अक्तूबर को सुबह 10 बजे हजरत बाबा ताजुद्दीन ट्रस्ट के कार्यालय से शाही संदल निकलेगा. संदल ताजाबाद, उमरेड रोड से निकलकर सक्करदरा चौक, सिरसपेठ, अशोक चौक, नई शुक्रवारी सीमेंट रोड, शिवाजी पुतला, अग्रसेन चौक, डागा अस्पताल, गांजाखेत चौक, तीन नल चौक इतवारी, शहीद चौक, गांधी पुतला, बड़कस चौक, कोतवाली, कल्याणेश्वर मंदिर, झंडा चौक, चिटणवीसपुरा, नाग नदी पुलिया, जूनी शुक्रवारी रोड, सक्करदरा चौक, उमरेड रोड होते हुए शाम 6 बजे ताजाबाद शरीफ वापस लौटेगा. पश्चात बाबा की मजार पर शाही चादर चढ़ाई जाएगी. बाबा ताजुद्दीन इन्हीं रास्तों से गुजरते थे.

संदल निकलने से पूर्व ट्रस्ट के कार्यालय में कलाम व कव्वाली, मेहमानों की दस्तारबंदी होगी. पवित्र चादर को सिर पर उठाया जाएगा. संदल में धुमाल-ढोल पार्टी, बैंड, यलगार पार्टी, फकीर मलंग, मटका पार्टी, घोड़े आदि शामिल होंगे. 19 अक्तूबर को रात 9 बजे छोटा कुल शरीफ की फातेहा होगी. 21 अक्तूबर को सुबह बड़े कुल शरीफ की फातेहा होगी. उर्स के दौरान 14 से 21 अक्तूबर तक रोजाना नमाजे ईशा यानि रात की नमाज के पश्चात मिलाद शरीफ, वाज और महफिले कव्वाली होगी. प्रतिवर्षानुसार 14 अक्तूबर से 23 नवंबर तक उर्स मेला जारी रहेगा. पत्रपरिषद में ट्रस्ट के कार्यकारी सदस्य सैयद जिलानी, अमानुल्ला खान, अश्विन बेथारिया, केयर टेकर शहजादा खान, गुलाम मुस्तफा उपस्थित थे.