newsdog Facebook

मसूद अजहर ने कहा- पाक के पास एक बड़ी सेना और परमाणु शक्ति, तो अमेरिका से क्यों घबराना

Puri Dunia 2018-01-11 15:03:17

नई दिल्ली: आतंकी संगठनों को संरक्षण देने के आरोप के चलते अमेरिका ने पाकिस्तान को दी जाने वाली आर्थिक सहायता पर रोक जरूर लगा दिया है, लेकिन अब पाकिस्तान की ओर से आतंकी सगठनों ने ही आवाज  करना शुरू कर दिया है। ऐसी ही एक आवाज सुनाई दी है आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के संस्थापक मौलाना मसूद अजहर की, जिसने एक ऑडियो टेप जारी कर पाकिस्तान को अमेरिका के आगे न झुकने के ये आगाह किया है।

अपने इस ऑडियो टेप में अजहर ने कहा है कि पाकिस्तानी मीडिया और बौद्धिक वर्ग से जुड़े लोग ट्रंप की मांग को पूरा करने की सलाह देकर अपने देश के लोगों के अंदर डर पैदा कर रहे हैं।


आतंकियों के इस आका ने कहा कि पाकिस्तान ट्रंप के ट्वीट के बाद डर गया है, जबकि उसे पता है कि उसके पास एक बड़ी फौज है और खुद एक परमाणु शक्ति संपन्न राष्ट्र है। पाकिस्तान को अमेरिका से समझौता नहीं करना चाहिए। उसे नहीं भूलना चाहिए कि अमेरिका अकेला नहीं है, उसके साथ भारत भी है।

अजहर ने कहा कि अगर पाकिस्तान खुद को बचाना चाहता है तो उसे अमेरिका से मुक्त होना होगा। जो अमेरिका अफगानिस्तान में तालिबान को नहीं हरा पाया वो पाकिस्तान को क्या नुकसान पहुंचा पाएगा।

आपको बता दें कि अभी बीते दिनों अमेरिका ने पाकिस्तान को ‘धोखेबाज और धूर्त’ कहते हुए सैन्य मदद पर रोक लगा दिया। अमेरिका ने आरोप लगाया कि पाकिस्तान वह अपने यहां आतंकी संगठनों को पनाह दे रहा है। इस बयान के बाद पाकिस्तान को मिलने वाले 1.3 अरब डॉलर की मदद को अमेरिका ने रोक दिया है।