newsdog Facebook

हैरान कर देगी यहां की असल जिंदगी की हकीकत

Eenadu India 2018-01-11 16:29:00

ठंड में अलाव के सहारे जिंदगी।


रामपुर। ठंड में कंपकंपाती जिंदगी की वास्तविकता देखोगे तो हैरान रह जाओगे। क्योंकि यहां प्रशासन की बड़ी लापरवाही सामने आई है। रेलवे स्टेशन की जमीन पर गरीब, असहाय लोग बिना कंबल के ठंड का सितम झेलते हैं और ये हकीकत प्रशासन के खोखले दावों की पोल खोलती है।


ऐसा ही कुछ नजारा देखने को मिला, रामपुर के ताश का मोहल्ला में, जहां पन्नी की छत बनाकर रह रहे करीब 15  गरीब परिवार इस हाड़कंपाऊ ठंड की मार सहन करते मिले। हकीकत ये थी कि न उनके शरीर पर कोई मोटा कपड़ा था और न ही रजाई या कबंल। लेकिन इससे इतर ये ठंड जहां गरीबों पर सितम ढहा रही तो वहीं अफसरों की जेब गरमा रही थी लेकिन ये सारी हकीकत प्रशासन के खोखले दावों को उजागर करने के लिए काफी थी।

इन गरीब परिवार के लोगों ने बताया कि मेरे बच्चे इस सर्द भरी रातों में अक्सर भूखे सो जाते हैं लेकिन हम गरीब लोगों की कभी किसी ने सुध नहीं ली। जबकि, रामपुर राजनीतिक दृष्टिकोण से काफी चर्चा में रहता है।


आश्रय गृह में जड़ा ताला

अगर यहां के रैन बसेरों की बात की जाए तो बड़े-बड़े दावों से जमीनी हकीकत कुछ और है। लोगों का कहना है कि सपा सरकार में करोड़ों रुपए की लागत से बनवाए गए रैन बसेरों पर ताले जड़े हैं। ये सब सरकारी अधिकारियों की मनमानी का नतीजा है कि हम गरीब लोगों को छत तक नसीब नहीं है।

अब देखने वाली बात ये होगी कि कब तक गरीब, असहाय, मजलूम ऐसे ही ठंड के सितम को झेलते रहेंगे या फिर गहरी निद्रा में सोया प्रशासन सक्रिय होगा।