newsdog Facebook

आवेदन संकलन के साथ लोक सुराज का प्रथम चरण आज से

Janta Se Rishta 2018-01-12 14:53:57


631 पंचायतों एवं नगरीय निकायों में लिए जाएंगे लोगों के आवेदन
जांजगीर जनता से रिश्ता / वेबडेस्क  ! पिछले वर्ष की तरह इस बार भी लोक सुराज अभियान आज से प्रारंभ हो रहा है। तीन चरणों में होने वाले इस अभियान का प्रथम चरण आवेदन संकलन तक सीमित रहेगा। जिसके लिए नगरीय निकायों सहित सभी 631 पंचायतों में आवेदनों का संकलन किये जाने की व्यवस्था की गई है। बीते वर्ष भी इस तरह की व्यवस्था के बीच बड़ी संख्या में लोगों ने शिकायत व मांगे जमा की थी, जिस पर सरकारी दावा शत-प्रतिशत समाधान का रहा है। मगर कई लोगों की शिकायत है कि उनकी समस्या अथवा मांगों पर कोई भी पहल नहीं हो पाई थी। ऐसे में देखना होगा कि इस बार प्रदेश व्यापी लोक सुराज अभियान से आम लोगों का जुड़ाव कितना हो पाता है।
प्रदेशव्यापी लोक सुराज अभियान 12 जनवरी से होगा। अभियान तीन चरणों में आयोजित किया जाएगा। प्रथम चरण में 12 से 14 जनवरी तक जिले के सभी 631 ग्राम पंचायतो एवं नगरीय निकायों में आवेदन संकल शिविर का आयोजन किया जाएगा। कलेक्टर डॉ एस भारतीदासन ने आवेदन संकलन शिविर के लिए नोडल अधिकारी और प्रत्येक दस शिविर में एक प्रभारी अधिकारी की नियुक्ति की है। ग्राम पंचायतों एवं नगरीय निकायों के अलावा विभिन्न विभागों के जिला कार्यालयों में भी आवेदन संकलन के लिए समाधान पेटी की व्यवस्था की गई है। लोक सुराज अभियान में तीन माध्यमों से आवेदन स्वीकार किया जाएगा। निर्धारित प्रारूप में आवेदन भरकर आवेदन संकलन शिविर में जमा कर पावती प्राप्त किया जा सकता है। इसी प्रकार संकलन शिविर में एक समाधान पेटी की भी व्यवस्था की गई है। जिसमें आवेदन डाला जा सकता है। आवेदन पेटी प्रतिदिन शाम को पंचनामा कर खोला जाएगा एवं पेटी से प्राप्त आवदनों को पंजी में संधारण किया जाएगा।
कैसे करना होगा आवेदन
एक आवेदन में केवल एक शिकायत या मांग लिखना होगा। दो या दो से अधिक मांग व शिकायत के लिए अलग-अलग आवेदन जमा करना होगा। आवेदन के निर्धारित कॉलम में मोबाईल नंबर अवश्य लिखना चाहिए, जिससे आवेदक को संदेश के माध्यम से सूचना दी जा सके। इसके अलावा इंटरनेट के माध्यम से भी लोक सुराज की वेबसाईट के माध्यम से आवेदन जमा किया जा सकता है। आवेदन संकलन शिविर में आवेदको को बताया जाएगा कि समाधान की सूचना उन्हें कब और किस शिविर में दी जाएगी। लोक सुराज अभियान के दूसरे चरण में 15 जनवरी से 11 मार्च तक प्राप्त आवेदनों का निराकरण किया जाएगा। तीसरे चरण में 12 मार्च से 31 मार्च तक प्रत्येक दस ग्राम पंचायतों के बीच एक समाधान शिविर का आयोजन कर आवेदकों को समाधान की जानकारी दी जाएगी। समाधान शिविरों में भी मांग व शिकायत से संबंधित आवेदन स्वीकार किया जाएगा। मुख्यमंत्री, प्रभारी मंत्री, मंत्री, प्रभारी सचिव विभिन्न समाधान शिविरों में पंहुचकर ग्रामीणो ंसे सीधा संपर्क करेंगे।