newsdog Facebook

यूपी में भड़क सकता है सांप्रदायिक दंगा

Hindi Enews 2018-01-12 16:24:00

सिया धर्म गुरू कल्वे जव्वाद ने शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी द्वारा मदरसाें पर लगाए गए आराेप पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। मौलाना सैयद कल्बे जव्‍वाद ने कहा कि शिया समुदाय वसीम रिजवी के बेबुनियाद बयान की निंदा करता है। 

इस दाैरान मौलाना ने यूपी सरकार से सवाल किया कि आखिर सरकार द्वारा वसीम रिजवी को छूट दिए जाने का कारण क्‍या है? अभी तक उनके खिलाफ पुलिस ने चार्जशीट दाखिल क्‍यों नहीं की है। जबकि उसका अपराध और भ्रष्टाचार साबित हो चुका है। मौलाना ने अधिक कड़ा रुख अपनाते हुए कहा कि ऐसे बयानों से देश का माहौल खराब हो सकता है और प्रदेश में दंगों की स्थिति पैदा हो सकती है। 

मौलाना ने कहा कि अगर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ वसीम रिजवी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई नहीं करते हैं तो हम लखनऊ से दिल्ली तक विरोध करने पर मजबूर होंगे। मौलाना ने कहा कि पांच साल तक मदरसे आजम खां के अधीन रहे हैं, जिसका मतलब है कि आजम खां के समय से आतंकवादी बनाए जा रहे हैं। उन्‍होंने शिया मदरसों के जिम्मेदारों से भी कहा कि वह इस मामले पर क्‍यों चुप हैं। 

क्या कहा था रिजवी ने?
गाैरतलब है कि शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी ने कहा है कि मदरसों की शिक्षा मुस्लिम बच्चों को समाज की मुख्यधारा से दूर कर रही है। मदरसों को मिलने वाली फंडिंग पर सवाल उठाते हुए कहा कि इनके पास आतंकी संगठनों से पैसा आ रहा है। इतना ही नहीं रिजवी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खत लिखकर मदरसों को खत्म करने की पैरवी की है। 

अपनी प्रतिक्रिया दें



महत्वपूर्ण सूचना

भारत सरकार की नई आईटी पॉलिसी के तहत किसी भी विषय/ व्यक्ति विशेष, समुदाय, धर्म तथा देश के विरुद्ध आपत्तिजनक टिप्पणी दंडनीय अपराध है। इस प्रकार की टिप्पणी पर कानूनी कार्रवाई (सजा या अर्थदंड अथवा दोनों) का प्रावधान है। अत: इस फोरम में भेजे गए किसी भी टिप्पणी की जिम्मेदारी पूर्णत: लेखक की होगी।