newsdog Facebook

लोक सुराज अभियान: पहले दिन ही तगड़ा झटका, टीम पर भड़के ग्रामीण

Eenadu India 2018-01-12 20:00:00

ग्रामीणों द्वारा बंधक बनी सुराज टीम।


बिलासपुर। चुनावी साल में जनता के बीच जाकर उनकी समस्याओं को सुनने और उनसे सम्पर्क स्थापित करने के लिए सरकार की ओर से शुरू किए गए लोक सुराज अभियान को पहले ही दिन लोगों का गुस्से का सामना करना पड़ा। जिले के तखतपुर में लोक सुराज के पहले ही दिन सुराज दल को ग्रामीणों ने बंधक बना लिया।


जिले के तखतपुर ग्रामीण अंचल में आज लोक सुराज के पहले ही दिन सुराज दल पर ग्रामीणों का गुस्सा फूट पड़ा। ग्रामीणों ने सुराज दल को तीन घंटे तक बंधक बनाए रखा। बाद में जल्द सड़क बनाए जाने के आश्वासन के बाद ग्रामीणों ने सुराज दल को आजाद किया। मामला तखतपुर के ग्राम पंचायत बहतराई के आश्रित गांव दबेना का है।

गुस्साए ग्रामीणों का कहना था कि वर्ष 2013 में हुए ग्राम सुराज के दौरान ही ग्रामीणों को ग्राम पंचायत मुख्यालय से गांव तक सड़क बनाने का आश्वासन मिला था जो अब 4 साल बाद भी नहीं बन पाया है। शुक्रवार सुराज दल जब गांव पहुंची तो ग्रामीणों ने दल का उग्र विरोध करना शुरू कर दिया। बाद में गुस्साए ग्रामीणों ने दल को पंचायत भवन में बंधक बना दिया।

लोक सुराज टीम

जब दल और ग्रामीणों के बीच बहस हो रही थी तब अधिकारियों ने ग्रामीणों के खिलाफ एफआईआर कराने की धमकी भी दे डाली, जिससे ग्रामीण और ज्यादा बौखला गए। हालांकि काफी समझाने-बुझाने और आश्वासन के बाद ग्रामीणों ने दल को रिहा किया।

गौरतलब है कि ग्रामीणों ने 4 साल पहले भी सुराज दल को बंधक बनाया था। तब तखतपुर की तत्कालीन एसडीएम फरिहा आलम सिद्दीकी ने ग्रामीणों से सड़क बनाये जाने का लिखित में आश्वासन दिया था जो चार साल भी नहीं बन पाया।