newsdog Facebook

पहली बार महिलाओं के लिए जेद्दाह में स्टेडियम के दरवाजे खुले

Hindustan khabar 2018-01-13 10:11:17

रियादः सऊदी अरब में शुक्रवार को पहली महिलायें स्टेडियम में फुटबॉल मैच देखने के लिए पहुंची। इस राष्ट्र में यह पहली बार था जब महिलाओं के लिए जेद्दाह में स्टेडियम के दरवाजे खुले। इसके लिये स्टेडियम में स्त्रियों के लिये खास दीर्घा बनाई गई है। इसके साथ ही स्त्रियों के रेस्टरूम व अलग प्रवेश द्वार बनाये गए हैं। शुक्रवार को यहां जो मैच हुआ वह दो लोकल टीमों के बीच शहर के किंगअब्दुल्ला स्पोर्ट्स सिटी स्टेडियम में हुआ। स्टेडियम में स्त्रियों के बैठने के लिए अलग से ‘परिवार दीर्घा’ का बनाए गए। जहां बैठकर स्त्रियों ने जमकर मैच का लुत्फ उठाया। खूब सेल्फी ली व अपनी पसंदीदा टीम को चीयर किया।

आपको बता दें कि शुक्रवार को ही सऊदी के सूचना मंत्रालय ने बोला था कि, ‘‘महिलायें जिस फुटबाल मैच को पहली बार स्टेडियम में देखेंगी वह अल-अह्ली व अल बातिन के बीच होगा। इसके बाद महिलायें 13 जनवरी व फिर 18 जनवरी को भी स्टेडियम में मैच देख सकेंगी। ’’ इनमें से पहला मैच रियाद, दूसरा जेद्दा व तीसरा दम्माम में खेला जायेगा।

रूढ़िवादी राष्ट्र के रूप में जाने जाने वाले सऊदी अरब ने हाल के दिनों में स्त्रियों पर लगे प्रतिबंध में छूट दी है। इससे पहले सितंबर में सैकड़ों स्त्रियों को रियाद खेल स्टेडियम में जाने की अनुमति दी गई थी। यह उन तमाम सामाजिक सुधारों की कोशिशों में से एक है, जो क्राउन प्रिंस मोहम्मद सलमान की अगुवाई में किए जा रहे हैं।

जेद्दाह के स्टेडियम में महिला फैन्स के स्वागत के लिए महिला कर्मचारियों को तैनात किया गया था। स्त्रियों ने ज़ोर शोर से अपनी अपनी टीमों का समर्थन किया। महिला प्रशंसकों व कर्मचारियों ने पारंपरिक परिधान अबाया पहन रखा था। इस दौरान सोशल मीडिया पर जो हैशटैग चला उसका अर्थ था, ‘लोग स्टेडियमों में स्त्रियों के प्रवेश का स्वागत करते हैं। ‘

इससे पहले शुक्रवार को ही सऊदी अरब में एक व बदलाव हुआ। जेद्दाह में ही पूरी तरह महिला ग्राहकों के लिए समर्पित राष्ट्र का पहला कार शोरूम खोला गया। इसी वर्ष जून महीने से स्त्रियों को पहली बार कार चलाने की इजाज़त भी मिल जाएगी। बीते वर्ष सितंबर में यह पाबंदी हटाने का ऐलान किया गया था।