newsdog Facebook

अधिकारी आपसी ताल-मेल से कार्य करें : ओपी धनखड़

Uttam Hindu 2018-03-13 19:55:16

पंचकूला(एस.अग्रिहोत्री) हरियाणा के कृषि तथा विकास एवं पंचायत मंत्री ओपी धनखड़ ने जिला सचिवालय के सभागार में जिला परिषद के सदस्यों व अधिकारियों की आयेाजित बैठक की अध्यक्षता की। उन्होंने बैठक में जिला परिषद की कार्यप्रणाली को और बेहतर ढंग से संचालित करने की दिशा में विभिन्न महत्वपूर्ण बिंदुओं पर अधिकारियों व सदस्यों से विस्तार से चर्चा की।
बैठक में पंचकूला के विधायक ज्ञानचंद गुप्ता, कालका की विधायक लतिका शर्मा, हरियाणा विकास एवं पंचायत विभाग के प्रधान सचिव अनुराग रस्तोगी, अतिरिक्त उपायुक्त मुकुल कुमार, जिला परिषद की मु य कार्यकारी अधिकारी शषि वसुंधरा, जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी उत्तम ढालिया, पंचायती राज के कार्यकारी अभियंता अशोक श्योकंद सहित जिला परिषद के सदस्य भी उपस्थित रहे।
इस मौके पर धनखड़ ने कहा कि जिला परिषद के सदस्य एवं अधिकारी आपसी ताल-मेल से कार्य करें ताकि सकारात्मक परिणाम सामने आएं।  उन्होंने हरियाणा विकास एवं पंचायत विभाग के प्रधान सचिव को कहा कि जो भी जिला परिषद बेहतर कार्य करती है, उनका चयन कर स मानित भी अवश्य करवाएं। उन्होंने अधिकारियों एवं जिला परिषद के सदस्यों को परामर्श देते हुए कहा कि वे आपस में ताल-मेल कर विकास कार्यों को प्राथमिकता के आधार पर करवाएं। उन्होंने जिला परिषद के अधिकारियों एवं सदस्यों की समसयाओं को भी सुना और उनके निपटान का भी भरोसा दिलाया कि प्राथमिकता के आधार पर उनका निदान किया जाएगा। बैठक में जिला परिषद की चेयरपर्सन रितु सिंगला ने जिला परिषद के कार्यालय की समस्याओ के बारे में मंत्री को अवगत करवाया। उन्होंने लीकर फंड को किस तरह और किन-किन कार्यों में प्रयोग किया जा सकता है की दिशा में भी मार्गदर्शन मांगा। बैठक में निर्णय लिया गया कि इसका निर्णय जिला परिषद स्वयं ले और सुनिश्चित करे कि इसका प्रयोग किन-किन कार्यों के लिए किया जाना है। इसके अलावा चेयरपर्सन ने फंडों के बटवारे, ई-टेंडरिंग के बारे में भी मुद्दा उठाया। मंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे विकास कार्यों के लिए ई-टेंडरिंग को निर्धारित समय में करना सुनिश्चित करें ताकि विकास कार्य करने में देरी न हो। इसके साथ-साथ परिषद के सदस्यों ने गांव में सफाई कर्मचारियों का मुद्दा भी उठाया कि वे हमें सहयोग नहीं दे रहे। इस पर मंत्री ने स्पष्ट शब्दों में कहा कि वे सरपंच के अधीन हैं और जिला परिषद के सदस्य सरपंच से ताल-मेल करके साफ-सफाई का कार्य करवाएं। कुछ सदस्यों ने गलियों की लाईटों को ठीक करवाने की मांग भी रखी।
जिला परिषद के सदस्यों ने सामूहिक रूप से हरियाणा के मु यमंत्री का विशेष तौर पर आभार प्रकट करते हुए कहा कि पहली बार जिला परिषद के माध्यम से करवाए जाए वाले विकास कार्यों के लिए प्रयाप्त मात्रा में राशि उपलब्ध करवाई गई है। उन्होंने मंत्री के समक्ष ओडीएफ के  दौरान शौचालयों के निर्माण की राशि के भुगतान की बात भी रखी। उन्होंने बस क्यू शेल्टर के  मुद्दे को भी मंत्री के समक्ष उठाया। इसके साथ-साथ स्टाफ की कमी के बारे में मंत्री को अवगत करवाया, जिस पर उन्होंने भरोसा दिलाया कि प्रधान सचिव प्राथमिकता के आधार पर उनकी समस्या का निदान करवाएगे।

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9814266688 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें ।