newsdog Facebook

लेनदेन के विवाद में हथौड़ा मारकर युवक की हत्या

Janta Se Rishta 2018-03-14 10:46:41


जनता से रिश्ता / वेबडेस्क
राजेन्द्र नगर आरडीए बिल्डिंग स्थित मेडिकल दुकान में कुर्सी से बंधी मिली लाश, आरोपी फरार
रायपुर। राजेन्द्र नगर इलाके के आरडीए बिल्डिंग में सोमवार सुबह एक युवक की खून से सनी लाश मिलने से सनसनी फैल गई। मृतक सिद्धार्थ गोलछा (20) हनुमान नगर, कालीबाड़ी का रहने वाला था। पुलिस को शव पड़े होने की सूचना आरडीए बिल्डिंग में ही मेडिकल स्टोर चलाने वाले कटोरातालाब निवासी ऋषभ मल्होत्रा (21) ने दी। पुलिस ने शव को पीएम के लिए अंबेडकर अस्पताल भिजवाया और दोपहर बाद परिजनों को सौंप दिया। बताया जा रहा है कि सूचना देने के बाद ऋषभ फरार हो गया, लिहाजा पुलिस को उसी पर हत्या का संदेह है।
राजेंद्र नगर थाना प्रभारी संध्या द्विवेदी ने बताया कि मंगलवार सुबह 10 बजे सिद्धार्थ के खून से सने शव पड़े होने की सूचना मिली। प्रारंभिक जांच में पता चला सिद्धार्थ ने मेडिकल स्टोर संचालक ऋषभ गोलछा से उधार में 10 हजार रुपए लिए थे। पैसे के लेनदेन को लेकर दोनों के बीच पिछले कुछ दिनों से विवाद चल रहा था। सोमवार रात 7.30 सिद्धार्थ मेडिकल स्टोर पहुंचा था, जहां ऋषभ से उसका फिर विवाद हो गया। विवाद के दौरान ही ऋषभ ने पास में रखे हथौड़े से सिद्धार्थ के सिर पर ताबड़तोड़ कई वार कर दिया। मौके पर ही उसकी मौत हो गई। हत्या के बाद ऋषभ ने सिद्धार्थ की लाश को घसीटकर पीछे गोदाम में रखा और दुकान बंद कर घर चला गया। मंगलवार सुबह 10 बजे ऋषभ ने खुद थाने पहुंचकर सिद्धार्थ का शव पड़े होने की सूचना दी।
शक बढऩे पर हुआ गायब
पुलिस ने घटनास्थल का जायजा लिया। मेडिकल स्टोर में खून के धब्बे और लाश को घसीटे जाने के निशान पाए जाने पर पुलिस का शक ऋषभ पर गया। दरअसल दुकान में जिस तरह से सामान बिखरा पड़ा था, उसे देखकर पुलिस का दावा है कि मौत के पहले हत्यारे और मृतक के बीच जमकर संघर्ष हुआ था। इससे पहले कि ऋषभ मल्होत्रा को हिरासत में लेकर पूछताछ की जाती, अचानक गायब हो गया। पुलिस के मुताबिक सिद्धार्थ गोलछा ने ऋषभ की मेडिकल दुकान के जरिए कुछ महीने पहले एचआईवी का टेस्ट कराया था, जिसका 7 हजार रुपए बिल बकाया था। उसी रकम को लेकर दोनों के बीच विवाद गहराया और यह हत्या की वजह बनी।
कुर्सी से बांध, मुंह में ठूसा कपड़ा
घटनास्थल का निरीक्षण करने पहुंचे फोरेंसिक विशेषज्ञों ने बताया कि मृतक को कुर्सी से बांधा गया और फिर मुंह में कपड़ा ठूस दिया गया था। ताकि वह शोर न मचा सके। इसके बाद सिर पर हथौड़ा से ताबड़तोड़ कई वार कर उसे मौत के घाट उतार दिया गया। पुलिस और क्राइम ब्रांच की टीम मामले की जांच में जुट गई है।
चेम्बर ने सिद्धार्थ गोलछा की हत्या के आरोपी को शीघ्र गिरफ्तार करने की मांग की
छत्तीसगढ़ चेम्बर ऑफ कामर्स एंड इंडस्ट्रीज के प्रभारी अध्यक्ष चन्दर विधानी, प्रभारी महामंत्री राजकुमार तारवानी (राजू भाई), कोषाध्यक्ष प्रकाश अग्रवाल एवं समस्त पदाधिकारियों ने कहा कि न्यू राजेन्द्रनगर क्षेत्र के आर.डीए. कांपलेक्स के मेडिकल दुकान में पंडरी के कपड़ा व्यवसायी कमलचन्द गोलछा, निवासी हनुमान नगर, रायपुर के युवा सुपुत्र सिद्धार्थ गोलछा की हत्या की घोर निन्दा की एवं पुलिस महानिरीक्षक तथा जिला पुलिस अधीक्षक रायपुर को पत्र प्रेषित कर आरोपी को शीघ्र गिरफ्तार करने के साथ ही कठोर से कठोरतम दंड देने की मांग की गई। चेम्बर पदाधिकारियों ने कहा कि हत्यारा हत्या करने के पश्चात सपत्नीक शहर से फरार है एवं अभी तक पुलिस पकड़ से बाहर है, इस घटना से व्यवसायियों में भारी रोष एवं दहशत व्याप्त है। छत्तीसगढ़ चेम्बर के सभी पदाधिकारियों ने मृतक सिद्धार्थ गोलछा के निधन पर, तथा सुकमा के किस्टाराम इलाके में नक्सलियों के साथ मुठभेड़ में 9 सीआरपीएफ के जवानों के शहीद होने पर अपनी श्रद्धांजली अर्पित की है।