newsdog Facebook

देश में किसी व्यक्ति का नहीं, विधि का शासन है- न्यायाधीश

Patrika 2018-03-14 10:52:13

जिला एवं सत्र न्यायाधीश शुक्ल ने किया उत्कृष्ट विद्यालय में विधिक साक्षरता क्लब का उद्घाटन

विदिशा. देश में किसी व्यक्ति का नहीं, बल्कि विधि का शासन है। कानून की भूल क्षमा योग्य नहीं, इसलिए हर व्यक्ति को विधि, संविधान, मौलिक अधिकार और अपने कत्र्तव्यों का ज्ञान होना चाहिए। उक्त बात जिला एवं सत्र न्याधीश विपिन बिहारी शुक्ल ने उत्कृष्ट विद्यालय में विधिक साक्षरता क्लब का उद्घाटन करते हुए कही। जिला न्यायाधीश ने कहा संविधान सभी कानूनों की मां है। देश के हर व्यक्ति को विधिक साक्षरता और संविधान की जानकारी होना आवश्यक है।

 

सभ्य समाज के निर्माण के लिए विधिक साक्षरता बहुत जरूरी है। जब हम खुद के और दूसरों के कत्र्तव्यों और अधिकारों को समझने लगेंगे तब ही जागरुकता आ सकेगी। हम किसी व्यक्ति का सम्मान तभी कर सकते हैं जब उसके अधिकारो को समझेंगे। एडीजे डीपीएस गौर ने बताया कि समाज में जागरुकता के लिए विधिक साक्षरता क्लब स्कूल-कॉलेज में खोले जा रहे हैं।

न्याय के बिना सभ्य समाज की कल्पना नहीं की जा सकती। लेकिन देश में हर व्यक्ति को संवैधानिक निर्देशों, अधिकारों और कत्र्तव्यों की जानकारी नहीं है। विधिक साक्षरता क्लब का उद्देश्य युवा वर्ग को विधि के प्रति जागरूक करना है। विधिक साक्षरता क्लब के माध्यम से विद्यार्थी कोर्ट की कार्यशैली से भी वाकिफ हो सकेंगे।

उत्कृष्ट विद्यालय प्राचार्य चारूलता सक्सेना ने कहा कि स्कूल में बच्चों को इंजीनियरिंग और डॉक्टरी से संबंधित जानकारी तो मिल ही जाती है, लेकिन उन्हें कानून की जानकारी नहीं मिल पाती थी, लेकिन अब इस क्लब के माध्यम से ये कमी भी पूरी हो जाएगी। अच्छे नागरिक के लिए कानून, संविधान और अधिकारों की जानकारी बहुत ही आवश्यक है।

 

इस अवसर पर विशेष न्यायाधीश आरपी गुप्त, एडीजे शशि सिंह, आलोक मिश्रा, अजयकांत पांडे, जेएमएफसी दिनेश प्रजापति, नीरज प्रजापति के साथ ही कई न्यायाधीश, वरिष्ठ अधिवक्ता दिनेश मिश्र, शीला तिवारी, मदनकिशोर शर्मा, अजय कुशवाह, अतुल वर्मा सहित स्कूल स्टॉफ और विद्यार्थी मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन विष्णुप्रसाद शास्त्री ने किया।

अपनी कम्युनिटी से वैवाहिक प्रस्ताव पाएं। फोटो और बायोडेटा पसंद आने पर तुरंत वाट्सएप्प / फ़ोन पर बात करें।३,५०,००० मेंबर्स की तरह आज ही familyshaadi.com से जुड़ें।FREE

ऑफलाइन इस्तेमाल करें mobile app - अब आप बिना इंटरनेट के भी mobile app को इस्तेमाल कर सकते हैं। पहले ख़बरों को अपने मोबाइल पर डाउनलोड कर लें जिससे आप बाद में बिना इंटरनेट के भी पढ़ सकते हैं। Android OR iOS