newsdog Facebook

पीएम मोदी के फैसलों को लेकर आयी सबसे बड़ी खुशखबरी, ख़ुशी से झूम उठी देश की जनता, कारोबारियों में भी ख़ुशी की लहर.

DD Bharti 2018-03-14 15:08:34

नई दिल्ली (14 मार्च) : पीएम मोदी ने देश से भ्रष्टाचार को ख़त्म करने और व्यापार को सुगम बनाने के लिए नोटबंदी व् जीएसटी जैसे बड़े फैसले लिए. दुनियाभर के आर्थिक विशेषज्ञों ने पीएम मोदी की इन नीतियों की सराहना की, मगर विपक्ष ने मोदी विरोध के लिए इन फैसलों के बारे में खूब दुष्प्रचार किया. अब पीएम मोदी की आर्थिक नीतियों का परिणाम आना शुरू हो गया है.

आम आदमी को राहत, खुदरा महंगाई दर घटी

आम जनता के लिए अच्छी खबर आयी है. खुदरा महंगाई दर में फरवरी में गिरवाट दर्ज की गई है. फरवरी में महंगाई दर केवल 4.44 फीसदी रही. इसके साथ ही महंगाई दर पिछले चार महीने के सबसे निचले स्तर पर पहुंच गई है. इससे पहले दिसंबर खुदरा महंगाई दर 5.21 फीसदी और जनवरी में यह 5.07 फीसदी रही थी.

थोक महंगाई दर में भी गिरावट

खुदरा महंगाई दर के मामले में आम आदमी को राहत मिलने के बाद कारोबारियों को भी महंगाई को लेकर राहत मिल गई है. फरवरी महीने में सालाना थोक महंगाई दर 2.48 फीसदी पर आ गई है. यह लगातार तीसरा महीना है, जब डब्लूपीआई के आंकड़े राहत भरे रहे हैं.

पिछले साल नवंबर महीने में 8 महीने के सबसे ऊंचे स्तर पर पहुंचने के बाद डब्लूपीआई नीचे आया. जनवरी महीने में डब्लूपीआई 2.84 फीसदी था. फरवरी में घटकर यह 2.48 फीसदी पर आ गया है.

फरवरी महीने के थोक महंगाई दर के आंकड़े रॉयटर्स पोल के अनुमान के करीब आए हैं. रॉयटर्स पोल में फरवरी महीने में इसके 2.50 फीसदी रहने का अनुमान लगाया गया था. खाद्यान की थोक कीमतें फरवरी में साल-दर-साल के आधार पर 0.07 फीसदी रही. पिछले महीने यह दर 1.65 फीसदी रही थी.

औद्योगिक उत्पादन बढ़ा

जनवरी में औद्योगिक उत्पादन दर 7.5 फीसदी दर्ज की गयी जो दिसंबर में 7.1 फीसदी थी. अच्छी बात ये है कि 23 में से 16 औद्योगिक समूह में बढ़ोतरी की दर सकारात्मक रही है. सबसे ज्यादा बढ़ोतरी जहां परिवहन उपकरण बनाने वाले उद्योग मे देखने को मिला.

यानी कुल मिलाकर देखा जाए तो पीएम मोदी की आर्थिक नीतियों के सुखद परिणाम आना शुरू हो गए हैं. दुनियाभर की बड़ी-बड़ी आर्थिक एजेंसियों ने भारत की अर्थव्यवस्था के लिए जो अनुमान लगाए थे, वो सच साबित हो रहे हैं. शुरुआत में भले ही अर्थव्यवस्था बढ़ने की दर में कुछ गिरावट आयी थी, मगर अब हालात सुधरने शुरू हो गए हैं.

अनुमान है कि पीएम मोदी के फैसलों से भारत की अर्थव्यवस्था जल्द ही चीन को पछाड़कर एशिया में सबसे ज्यादा हो जायेगी. महंगाई बढ़ने की दर में गिरावट व् औद्योगिक उत्पादन दर में वृद्धि इसी का संकेत है.

यदि आप भी जनता को जागरूक करने में अपना योगदान देना चाहते हैं तो इसे फेसबुक पर शेयर जरूर करें. जितना ज्यादा शेयर होगी, जनता उतनी ही ज्यादा जागरूक होगी. आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं.

सब्सक्राइब करें हमारा यू-ट्यूब चैनल



हिंदी न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें

फेसबुक पेज लाइक करें
DemonetisationGSTNarendra Modi