newsdog Facebook

कई सवाल खड़े करता है देवस्थान में 3 दिन बलात्कार होना

Poorvanchal Media 2018-04-15 09:21:18

कठुआ के रसाना में हुआ बलात्कार कांड कई सवालों के घेरे में है. नाबालिग को एक देवस्थान पर तीन दिनों तक कैद रखा गया. ऐसा अपराध ब्रांच की चार्जशीट कहती है. लेकिन बार एसोसिएशन समेत कठुआ के तमाम लोग शक की दृष्टि से देख रहे हैं. चार्जशीट में जो बातें कही गई हैं वह मौके पर कहानी से मेल नहीं खाती. ऐसा लोकल लोगों का कहना है.  अमर उजाला ने अपराध ब्रांच की चार्जशीट व देवस्थान की जमीनी सच की पड़ताल की. पढ़िए मौका-ए वारदात की यह ग्राउंड रिपोर्ट


चार्जशीट: 3 दिन तक नाबालिग को देवस्थान में रखा गया
ग्राउंड रिपोर्ट: तीन दरवाजों से जुड़ा देवस्थान. भीतर राजा मंडलीक, बाबा सुरगल, माता मल, बाबा बिरफा नाथा व बाबा कालीवीर जैसे कुल देवताओं का स्थान. डोगरों में इन सभी कुल देवताओं की बहुत अहमियत है. इस देवस्थान के तीन दरवाजों की चार चाबियां हैं. तीन चाबियां रसाना के 13 घरों में बदल-बदल रखी जाती है. इसके अतिरिक्त एक चाबी पाटा गांव में है. इस गांव में 30 के करीब घर हैं. प्रातः काल 6 बजे से लेकर 10 बजे व शाम 6 बजे से 8 बजे तक सब लोग देवस्थान में ज्योत जगाने आते हैं. ऐसी मान्यता है कि कुल देवता के जगह पर रोजाना दो वक्त ज्योत जलाई ही जाती है.

चार्जशीट: सांझी राम ने बेटे व भांजे के साथ बच्ची को बलात्कार के बाद मारने की योजना बनाई
ग्राउंड रिपोर्ट: सांझी राम की बेटी मोनिका शर्मा का कहना है कि उसके भाई विशाल को पकड़ लिया गया है. उसके पिता को मास्टरमाइंड बना दिया. कौन पिता होगा जो अपने बेटे को कहेगा कि किसी मासूम से बलात्कार कर दो. अपराध ब्रांच ने मनगढ़ंत कहानी बनाकर उसके पिता को फंसा दिया.उसके पिता की बक्करवाल परिवार से कोई पुरानी दुश्मनी नहीं थी. न ही कोई जमीन का टकराव था.यदि ऐसा होता तो बच्ची का परिवार 40 वर्ष से यहां रहता आ रहा है. अगर कोई रंजिश होती भी तो बच्ची पे क्यों निकालते.

चार्जशीट: वाहन न मिला तो जंगल में फेंक दिया शव
ग्राउंड रिपोर्ट: जिस स्थान पर नाबालिग का मृत शरीर मिला. वो स्थान सांझी राम के घर व देवस्थान को जोड़ती है. यूं बोला जाए कि देवस्थान से सांझी राम के घर के रास्ते में मृत शरीर मिला था. यह भी एक सवाल है कि सांझी राम के घर के रास्ते के बीच मृत शरीर क्यों फेंका, जबकि आरोपियों को मालूम था कि वहां से हर रोज कई लोग गुजरते हैं. यह रास्ता सांझी राम के अतिरिक्त अन्य घरों को शार्टकट रास्ते के रूप में जोड़ता है.


चार्जशीट: 13 जनवरी को विशाल जंगोत्रा ने प्रातः काल 8:30 बजे देवस्थान में बच्ची से बलात्कारकिया ग्राउंड रिपोर्ट: 

सुबह 6 बजे से लेकर 10 बजे तक पाटा 

 रसाना गांव के लोग ज्योति जलाने आए होते हैं

.

 सांझी राम की बेटी का कहना है कि 10 जनवरी से लेकर अगले चार दिन तक लगातार दोनों गांव के कई लोग देवस्थान आए

.

 अगर बच्ची को यहां रखा होता तो वो नजर नहीं आती क्या?

चार्जशीट: बच्ची को टेबल के नीचे छुपाकर, मैट व दरियों से कवर करके रखा
ग्राउंड रिपोर्ट: देवस्थान में यह टेबल अब भी पड़ा है. जिसकी ऊंचाई करीब दो फुट होगी व लंबाई ढाई फुट. इसके नीचे किसी को छुपाकर रखना जाए तो साफ तौर पर पता चल जाएगा. बेशक इसे सभी तरह से कवर करके रखा जाए. सांझी राम की बेटी मोनिका शर्मा ने बोला कि अपराध ब्रांच ने बताया कि तीन दिन तक बच्ची से देवस्थान के भीतर बलात्कार हुआ. लेकिन उक्त तीन दिनों में प्रातः कालशाम लोग आकर माथा टेक कर गए. यदि लड़की को यहां छुपाया होता, तो पता चल जाता.

चार्जशीट: सांझी राम के शेड में भी बच्ची को रखा गया
ग्राउंड रिपोर्ट: यह शेड गांव के बीचों बीच बना हुआ है. जो बिल्कुल खुला है. इसमें कोई भी होगा तो साफ तौर पर दिख जाएगा. शेड के पास कई व घर भी हैं.

दोषी हों, तो कड़ी सजा दो, लेकिन जांच CBI से कराओ
वहीं कूटा में धरने पर बैठे रसाना गांव के लोगों का कहना है कि अगर सांझी राम सहित अन्य लोग दोषी हों, तो उन्हें कठोर सजा दो, लेकिन इसकी जांच CBI से कराओ. क्योंकि अपराध ब्रांच ने सिर्फ एक ही पक्ष की बात सुनी है. CBI की जांच में यदि साबित हो तो वह लोग तैयार हैं.