newsdog Facebook

नीम के ये फायदे जानकर हैरान रह जाएंगे आप, डॉक्टर ने खोले बड़े राज

Patrika 2018-04-16 10:58:20

नीम की पत्ती से पेट के कीटाणु भी नष्ट हो जाते हैं।

लखनऊ. नीम का नाम सुनते ही मन में अजीब सी कड़वाहट आजाती है। हम नाक भौ सिकोड़ने लगते हैं, लेकिन क्या आपको पता है नीम की पत्तियां हमारे लिए कितनी लाभदायक हैं। कहते हैं कि रोज अगर एक नीम की पत्ती खालो तो पेट से सारे विकार नष्ट हो जाते हैं। नीम की पत्ती से पेट के कीटाणु भी नष्ट हो जाते हैं। नीम के क्या क्या और फायदे हैं ये आपको बताएंगे लखनऊ के इंदिरा नगर के रहने वाले हेल्थ एक्सपर्ट संजीव चौरसिया...

अगर हो गए हैं फोड़े-फुंसी तो करें नीम का उपयोग


जले हुए जगह पर नीम का तेल या पत्तियों को पीसकर लगाने से आराम मिलता है। नीम की पत्तियों और तेल में एंटीसेप्टिक गुण होते हैं इसलिए कटे हुई जगह पर नीम का तेल लगाने से टिटनेस का डर नहीं रहता। इसके अलावा अगर आप फोड़े और फुंसियों की समस्या से बचना चाहते हैं तो नीम के पत्ते, छाल और फलों के को बराबर मात्रा में लेकर पीस लें। अब इसका पेस्ट त्वचा पर लगाएं। इससे फोड़े-फुंसियां और घाव जल्दी ठीक हो जाते हैं। नीम की पत्तियों को पानी में उबालकर और ठंडा करके उसे पीना मुंह धोने और मुंहासे से आराम मिलता है।


पीलिया में है आरामदायक


पीलिया में नीम का इस्तेमाल फायदेमंद होता है। पित्ताशय से आंत में पहुंचने वाले पित्त में रुकावट आने से पीलिया होता है। ऐसे में रोगी को नीम के पत्तों के रस में सोंठ का चूर्ण मिलाकर देना चाहिए या फिर दो भाग नीम की पत्ती का रस और एक भाग शहद मिलाकर पीने से पीलिया रोग में काफी फायदा होता है।


पथरी है तो करें नीम का सेवन


पथरी की समस्या से बचने के लिए लगभग 150 ग्राम नीम की पत्तियों को 1 लीटर पानी में पीसकर उबाल लें। इस पानी को सामान्य होने पर पीलें। नियमित रूप से ऐसा करने से पथरी में आराम मिलता है। पथरी से आराम से निकल जाती है।


कान वा दांतो के दर्द के लिए लाभदायक


कान में नीम का तेल डालने से कान दर्द या बहने की समस्या में आराम मिल जाता है। नीम का तेल गर्म करके जला लें फिर इसे थोड़ा ठंडा करके कान में कुछ दिन तक नियमित रूप से डालने से बहरेपन में भी आराम मिलता है। इसके अलावा दांत के लिए लाभकारी है। नीम की दातुन नियमित रूप से करने से कीटाणु नष्ट हो जाते हैं। इससे मसूड़े मजबूत दांत चमकीले और निरोग होते हैं।


रक्त को शुद्ध करता है


नीम काफी शक्तिशाली ब्लड प्यूरीफायर और डिटॉक्सी फायर काम करता है। रक्त शुद्ध होने पर वह ज्यादा ऑक्सीजन और पोषक तत्वों को शरीर के अन्य अंगों तक पहुंचा पाता है और विषाक्त पदार्थों को जल्द से जल्द बाहर निकालने में मदद करता है। इससे शरीर के महत्वपूर्ण अंग जैसे किडनी और लिवर की कार्य क्षमता बढ़ती है और शरीर स्वस्थ रहता है। साथ ही इससे डाइजेस्टिव, रेस्पिरेटरी और यूरिनरी सिस्टम भी ठीक रहता है।

गठिया की सूजन से छुटकारा दिलाता है


गठिया या आर्थराइटिस के इलाज में नीम काफी प्रचलित हर्बल है, खासतौर से ऑस्टियोआर्थराइटिस और रयूमेटाइड आर्थराइटिस में। यह जोड़ों की सूजन और दर्द को कम करने में मदद करता है।

कैंसर को ठीक करता है


2014 में रोजवेल पार्क कैंसर इंस्टीट्यूट में हुई एक रिसर्च के अनुसार नीम में chemopreventive और antitumor effetcs होते हैं जो विभिन्न प्रकार के कैंसर जैसे सर्वाइकल और प्रोस्टेट कैंसर को ठीक करने में करते हैं। नीम में कई कंपोनेंट्स और एंटी ऑक्सीडेंट्स होते हैं जो इम्युनिटी सिस्टम को बढ़ा देते हैं, इन्फ्लामेशन को कम करते हैं, फ्री रेडिकल्स को बाहर निकाल देते हैं और सेल्स के फालतू डिवीज़न को रोक देते हैं।

अब पाइए अपने शहर ( Lucknow News in Hindi) सबसे पहले पत्रिका वेबसाइट पर | Hindi News अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Patrika Hindi News App, Hindi Samachar की ताज़ा खबरें हिदी में अपडेट पाने के लिए लाइक करें Patrika फेसबुक पेज

अपनी कम्युनिटी से वैवाहिक प्रस्ताव पाएं। फोटो और बायोडेटा पसंद आने पर तुरंत वाट्सएप्प / फ़ोन पर बात करें।३,५०,००० मेंबर्स की तरह आज ही familyshaadi.com से जुड़ें।FREE

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB