newsdog Facebook

पाक गोलीबारी में सेना के पोर्टर की मौत, एक घायल

Dainik Tribune 2018-04-16 22:28:44

जम्मू, 16 अप्रैल (हप्र)
एलओसी पर पाकिस्तानी सेना द्वारा की गई गोलीबारी में सेना के एक पोर्टर की मौत हो गई है। एक जवान के भी गंभीर रूप से जख्मी होने की खबर है। सीमा पर एक बार फिर से पाक ने अपनी नापाक हरकत को अंजाम दिया है। पाक ने उड़ी सेक्टर में सोमवार दोपहर को गोलीबारी कर सीजफायर का उल्लंघन किया है। इस गोलीबारी में एक पोर्टर के शहीद होने की खबर है।
हालांकि पाक की गोलीबारी के बाद भारतीय जवानों ने भी मुंहतोड़ जवाब दिया। सीमा पर रुक-रुककर गोलीबारी जारी थी। फिलहाल सीमा पर जवानों को चौकन्ना रहने की हिदायत दी गई है। जम्मू एवं कश्मीर के उड़ी सेक्टर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर पाकिस्तान सेना द्वारा की गई गोलीबारी में सोमवार को सेना के एक पोर्टर की मौत हो गई।
पुलिस ने कहा कि पोर्टर खुर्शीद अहमद की उड़ी सेक्टर में मौत हो गई। 37 वर्षीय खुर्शीद अहमद पुत्र मोहम्मद शरीफ निवासी नवा रूंडा सेना की 4 मद्रास के साथ काम कर रहा था। बताया जाता है कि उसे गर्दन में गोली लगी और टांगों पर ग्रेनेड के छर्रे लगे, जिससे वो गंभीर घायल हो गया और उसकी मौके पर ही मौत हो गई।
‘लापता’ जवान हिज्बुल में शामिल?
दक्षिण कश्मीर से इस महीने की शुरुआत में लापता हुआ सेना का एक जवान कथित तौर पर आतंकवादी संगठन हिज्बुल मुजाहिद्दीन में शामिल हो गया है। पुलिस अधिकारियों ने सोमवार को बताया कि वह जम्मू-कश्मीर लाइट इन्फेंट्री (जेएकेएलआई) इकाई में तैनात था। वह रविवार को समूह में शामिल हुआ। अधिकारी ने बताया कि मीर शोपियां से लापता हो गया था। वह 2 स्थानीय लोगों के साथ समूह में शामिल हुआ। वे 2 लोग भी लापता थे। हालांकि सेना का कहना है कि वह ‘लापता’ है और किसी आतंकवादी संगठन में उसके शामिल होने की कोई पुष्टि नहीं हुई है। वहीं, पुलिस के अनुसार मीर झारखंड में तैनात था और इसको लेकर वह नाखुश था।