newsdog Facebook

अपहरण व बलात्कार के दोषी को दस वर्ष कैद

Live News Xpress 2018-04-17 12:33:25

देहरादून, : छात्रा का अपहरण कर दस दिन तक बलात्कार करने के दोषी केबल ऑपरेटर को विशेष न्यायाधीश पोक्सो रमा पांडेय की न्यायालय ने दस वर्ष कैद की सजा सुनाई.



न्यायालय ने दोषी पर 38 हजार रुपये का अर्थदंड भी लगाया है, जिसमें 15 हजार रुपये बतौर सहायता पीड़िता को दिए जाने का आदेश दिया है.

विशेष लोक अभियोजक भरत सिंह नेगी ने न्यायालय को बताया कि घटना 18 अगस्त 2013 की है.हाईस्कूल में पढ़ने वाली सोलह वर्षीय एक छात्रा एमकेपी कॉलेज में छात्रवृत्ति की इम्तिहान देने आई थी. इस दौरान राज उर्फ मनोज कुमार आहूजा पुत्र दलीप सिंह निवासी छिद्दरवाला, थाना डोईवाला अपने एक दोस्त के साथ वहां पहुंचा व छात्रा को जबरन गाड़ी में खींचकर उसका अपहरण कर लिया.

इसके बाद राज छात्रा को लेकर रायवाला के एक मकान में गया, यहां उसने छात्रा को चार दिन तक रखा व धमकाकर बलात्कार करता रहा. चौथे दिन राज उसे लेकर राजस्थान चला गया. राजस्थान के एक गांव में उसे 29 अगस्त 2013 तक बंधक बनाकर

रखा. इस दौरान भी उसके साथ बलात्कार किया. 29 अगस्त को राज के नशे में होने के कारण छात्रा को वहां से भागने का मौका मिल गया. किसी तरह छात्रा हरिद्वार पहुंची व वहां से उसने परिजनों को फोन कर जानकारी दी. इसके बाद पुलिस ने छात्रा का मेडिकल कराया व मजिस्ट्रेट के समक्ष उसके बयान दर्ज कराए.

मेडिकल रिपोर्ट में बलात्कार की पुष्टि हुई व बयान में राज का नाम प्रकाश में आया. अपहरण के दौरान राज का एक दोस्त भी गाड़ी में था, लेकिन कोतवाली से केवल राज के विरूद्ध ही आरोप लेटरन्यायालय में दाखिल किया गया.

सुनवाई के दौरान अभियोजन पक्ष की ओर से आठ गवाह और बचाव पक्ष की ओर से दो गवाह पेश किए गए. मेडिकल रिपोर्ट, मजिस्ट्रेट के समक्ष दिए गए बयान व गवाहों के बयान समेत अन्य साक्ष्यों के आधार पर न्यायालय ने राज को दोषी मानते हुए सजा सुनाई. इसके बाद राज को जिला जेल सुद्धोवाला भेज दिया गया