newsdog Facebook

अब बटन दबाते ही मशीन में आप देख सकेंगे वोट किसे दिया

Patrika 2018-04-29 15:44:42

- 11 सैकंड तक होगा डिस्प्ले
- इवीएम में गड़बड़ी की आशंका पर रोक लगाने के लिए लांच हुई वीवीपेट मशीन

नीमच. पिछले वर्षों में चुनावों के दौरान शिकायतें आम हुई थी कि इवीएम में गड़बड़ी है। बटन किस चुनाव चिन्ह पर दबाया था और वोट गया किसी और के खाते में। इवीएम की विश्वसनीयता पर लगे प्रश्नचिन्हों को मिटाने के लिए अब उसका अपडेट वर्जन वीवी पेट मशीन के रूप में इस चुनाव में इस्तेमाल किया जाएगा। नीमच में वीवीपेट मशीनों की चैकिंग शुरू हो गई है।
११ सैकंड तक आप देख सकते हैं वोट किस उम्मीदवार को दिया-
वीवीपीएटी वीवीपेट यानि वोटर वेरीफाइड पेपर ऑडिट ट्रेल मशीन से इस बार मतदान होगा। वीवीपेट की खासियत यह है कि इसमें मतदाता जैसे ही अपने पसंद के उम्मीदवार को वोट के लिए बटन दबाएगा। वैसे ही डिस्प्ले यूनिट पर उसे यह पता चलेगा कि वोट किसे दिया गया है। यह स्क्रीन ११ सैकंड तक स्थित रह सकेगी। इसके बाद उसका पेपर इन बॉक्स में चला जाएगा। यहां पर यह भी खास है कि यदि मतदाता को फिर भी ऐसी कोई शंका होती है कि जहां पर उसने बटन दबाया उसके विपरित किसी और उम्मीदवार को वोट चला गया। तो वह सीधे टोल फ्री नंबर या निर्वाचन आयोग के वहां मौजूद अधिकारी को शिकायत दर्ज करा सकता है। तत्काल मतदान प्रक्रिया रोकी जाएगी और सॉफ्टवेयर में से पूरी प्रक्रिया जांची जाएगी। इसमें महत्वपूर्ण यह है कि मतदाता के संतुष्ट होने के बाद मतदान प्रक्रिया पुन: प्रारंभ की जाएगी। लेकिन यदि जांच में यह शिकायत झूठी पाई जाती है तो संबंधित मतदाता के खिलाफ कार्रवाई भी की जाएगी। ऐसा इसलिए कि शिकायत के बाद मतदान प्रक्रिया पर रोकी जाती है जिसके कारण कई मतदाता तो बेवजह परेशान होते ही हैं, निर्वाचन प्रक्रिया पूरी कराने वाले अधिकारियों कर्मचारियों को भी परेशान होना पड़ता है।
जिले में ७८० मतदान केंद्र-
नीमच जिले में ७८० मतदान केंद्र हैं। मतदान केंद्रों की तुलना में करीब १० प्रतिशत अधिक इवीएम बुलवाई जाती है। वीवीपेट की डिमांड शासन को भेजी जा चुकी है। लगभग ९०० वीवीपेट मशीन नीमच जिले के निर्वाचन के लिए आएगी। इधर वीवीपेट के जरिए वोट देने और आपत्तियों का निराकरण करने की प्रक्रिया के संबंध में जिला निर्वाचन कार्यालय द्वारा मास्टर ट्रेनर्स को प्रशिक्षण देना प्रारंभ कर दिया गया है। अवकाश के दिनों में भी यह प्रशिक्षण चल रहा है।
वर्जन-
इस बार के चुनावों में मतदान वीवीपेट मशीन के जरिए होगा। यह इवीएम का अपडेट वर्जन है। इसमें मतदाता को वोट के लिए बटन दबाने के दौरान यह दिखाई देगा कि उसने किस उम्मीदवार को वोट दिया है। यह मशीन के डिस्प्ले पर ११ सैकंड के लिए दिखाई देगा, इसके बाद यह जानकारी स्वत: मशीन के बॉक्स में ट्रांसफर हो जाएगी। वीवीपेट का प्रशिक्षण प्रारंभ कर दिया गया है। - कौशलेंद्र विक्रमसिंह, कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी नीमच