newsdog Facebook

कुमारास्वामी के शपथ ग्रहण समारोह में विपक्ष की एकजुटता ने बढ़ाई बीजेपी की चिंता

Navyug Sandesh - Hindi 2018-05-24 11:45:51

एचडी कुमारास्वामी ने कर्नाटक के मुख्यमंत्री की पद की शपथ बुधवार को ली। जबकि कांग्रेस नेता जी परमेश्वर ने कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री पद की शपथ ली। दोनों पार्टियों (जेडीएस और कांग्रेस) ने मिलकर सरकार बनाई है। दोनों पार्टियां 13-22 फॉमूले पर राज्य मंत्रिमंडल का बंटवारा भी करेंगी। लेकिन, इस शपथ ग्रहण समारोह सबसे ज्यादा चर्चा का विषय इसलिए बन गया क्योंकि, इस मंच पर देश के विपक्षी दल के कई नेता दिखे। इस विपक्षी एकता से सत्तारुढ पार्टी खेेमे में खलबली मच गई है। तकरीबन 13 राज्यों के 15 क्षेत्रीय दलों के नेता इस शपथग्रहण समारोह में पहुंचे। यह दल बीेजेपी 2019 में बीजेपी को सत्ता से दूर रखने के लिए एक हुए है। इन दलों का 429 लोकसभा सीटों पर प्रभाव पड़ेगा।

Loading...

अगर देखा जाए तो क्षेत्रीय दलों को हलके में लेना बीजेपी के लिए आसान नहीं होगा। क्षेत्रीय दलों का राज्यों पर काफी प्रभाव पड़ता है। छोटे छोटे क्षेत्रीय दल मिलकर केंद्र की गठबंधन सरकार बनाने में अहम भूमिका निभाते आए हैं।

कुमारास्वामी के शपथ ग्रहण समारोह में सपा के अखिलेश यादव, तृणमूल कांगे्रस की ममता बनजी, सीपीआई के सीताराम येचुरी, तेलुगुदेशम पार्टी में चदं्रबाबू नायडू, तेलंगाना राष्ट्र समिति के चंद्रशेखर राव, सपा सुप्रीमो मायावती, आरएलडी के अजित सिंह, आप प्रमुख अरविंद केजरीवाल जैसे दिग्गज नेताओं ने एक मंच पर आकर बीजेपी की चिंता बढ़ा दी है।

बीजेपी के चाणक्य कहे जाने वाले अमित शाह को अब 2019 में विपक्ष से मुकाबले के लिए जबरदस्त रणनीति बनानी होगी नहीं तो उनके लिए विपक्षी खेमा दिक्कत खड़ी कर सकता है।