newsdog Facebook

कश्मीर में घुसपैठ नाकाम, 2 आतंकी ढेर, 4 जवान भी शहीद

Indias News 2018-08-07 11:54:34
File Photo

श्रीनगर: स्वतंत्रता दिवस के मौके पर जम्मू-कश्मीर में आतंक की किसी बड़ी साजिश को अंजाम देने के लिए पाकिस्तान से घुसपैठ कर रहे 2 आतंकियों को मार गिराया गया है. उत्तरी कश्मीर के बांदीपोरा जिले के गुरेज सेक्टर में सेना के एक बड़े ऑपरेशन में एक मेजर और सेना के 3 जवान शहीद हुए हैं. इस कार्रवाई के बाद एलओसी से सटे सभी इलाकों में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है.
मिली जानकारी के मुताबिक सेना को खुफिया इनपुट से गुरेज सेक्टर में पाक के रास्ते आतंकियों के एक बड़े दल की घुसपैठ होने की जानकारी मिली थी. पूर्व में भी सेना को गृह मंत्रालय की एक अडवाइजरी में स्वतंत्रता दिवस के पहले बड़ी घुसपैठ होने की आशंका का इनपुट भेजा गया था.
गुरेज सेक्टर के बख्तूर इलाके में हुई कार्रवाई
इन सभी इनपुट्स के आधार पर मंगलवार तड़के से सेना के जवान बांदीपोरा के गुरेज सेक्टर से सटी नियंत्रण रेखा के पास बख्तूर इलाके में गहन तलाशी अभियान चला रहे थे. इस कार्रवाई के दौरान सेना के जवानों ने नियंत्रण रेखा पर 8 आतंकियों के एक दल को घुसपैठ की कोशिश करते हुए इंटरसेप्ट किया, जिसके बाद इन सभी को ललकारते हुए सरेंडर करने के लिए कहा गया. इस दौरान फिदायीन दस्ते में शामिल आतंकियों ने फायरिंग शुरू कर दी, जिसके बाद सेना की 36 राष्ट्रीय राइफल्स और 9 ग्रेनेडियर्स के जवानों ने भी काउंटर ऑपरेशन शुरू किया. इसके बाद शुरू हुए एनकाउंटर में सेना ने दो आतंकियों को मार गिराया.
वहीं जवाबी कार्रवाई के दौरान सेना के एक मेजर और 3 अन्य जवान शहीद हो गए. मिली जानकारी के अनुसार मेजर केपी राणे, हवलदार जे. सिंह, हवलदार विक्रम जीत और राइफलमैन मनदीप इस ऑपरेशन में आतंकियों से लोहा लेते हुए शहीद हुए हैं. इस कार्रवाई के बाद सेना की कई टीमों को गुरेज सेक्टर में भेजकर गहन तलाशी अभियान शुरू किया गया. बता दें कि पिछले ही दिनों सुरक्षा एजेंसियों ने जम्मू-कश्मीर में किसी बड़ी आतंकी घुसपैठ के होने का अलर्ट जारी किया था. वहीं जम्मू शहर में दिल्ली जाने वाली एक बस से 8 ग्रेनेड के साथ एक आतंकवादी को गिरफ्तार भी किया गया था.