newsdog Facebook

सौंदर्यकरण के नाम पर 5 साल पहले लाखों किए खर्च, लेकिन सिस्टम नहीं चला 45 ​भी दिन, हैं ऐसे हालात

Patrika 2018-08-09 11:44:11

बाड़मेर.
आदर्श स्टेडियम में पांच साल पहले लोगों को आकर्षित करने के लिए सौंदर्यकरण के नाम पर म्यूजिकल सिस्टम व रंगीन फव्वारा लगाया गया था। इस पर नगर परिषद ने 45 लाख रुपए खर्च किए, लेेकिन सिस्टम महज 45 दिन नहीं चल सका था, इसके बावजूद निर्माण एजेंसी के खिलाफ कार्रवाई नहीं हुई। ऐसे में जिम्मेदार अधिकारियों की कार्यप्रणाली सवालों के घेरे में है।

 

 

बोर्ड ने भुगतान रोका, फिर हुआ
स्टेडियम में लगाया गया म्यूजिकल फाउण्टेन गारंटी समय से पहले खराब पर नगरपरिषद बोर्ड की बैठक में निर्णय हुआ कि निर्माण एजेंसी का भुगतान रोका जाए। बोर्ड के निर्णय पर एजेंसी का २५ प्रतिशत बकाया लाखों रुपए का भुगतान रोक दिया, लेकिन जैसे ही बोर्ड का परिवर्तन हुआ तो अधिकारियों ने निर्णय को धत्ता बता दिया। और एजेंसी का रोका गया लाखों रुपए का भुगतान कर दिया।

 

 

शहरवासियों को दिखाया सपना
तत्कालीन कांग्रेसनीत नगरपरिषद बोर्ड ने लाखों रुपए खर्च कर शहरवासियों को पार्क व अन्य स्थानों पर सौन्दर्यकरण को लेकर खूब सपने दिखाए। शहर के प्रमुख चौराहे के सौन्दर्यकरण को लेकर प्रति साल लाखों रुपए खर्च किए, लेकिन हकीकत में धरातल पर ऐसा कुछ भी नहीं हो रहा है। शहर के महावीर पार्क में लगा सिस्टम खराब पड़ा है।

 

 

जानकारी के मुताबिक, बोर्ड के निर्णय पर एजेंसी का २५ प्रतिशत बकाया लाखों रुपए का भुगतान रोक दिया, लेकिन जैसे ही बोर्ड का परिवर्तन हुआ तो अधिकारियों ने निर्णय को धत्ता बता दिया। और एजेंसी का रोका गया लाखों रुपए का भुगतान कर दिया।

 

 

सुरक्षा व्यवस्था पर उठा बजट
आदर्श स्टेडियम में म्यूजिकल फाउण्टेन सिस्टम की सुरक्षा में लाखों रुपए का बजट भी उठ गया। इसके बावजूद सिस्टम की मशीनें व अन्य सामग्री चोरी हो गई और जिम्मेदार हाथ धरे बैठे रहे।

 

 

- इसे दिखवाया जाएगा
यह मामला मेरे कार्यकाल से पहले का है, इसका भुगतान कब हुआ?
एजेंसी के साथ रखरखाव को लेकर क्या नियम थे। इसकी फाइल मंगवाकर दिखवाया जाएगा। - लूणकरण बोथरा, सभापति, नगर परिषद