newsdog Facebook

ब्रिटिश नागरिक पर हमला करने के आरोप में अमरीका ने रूस पर लगाया प्रतिबंध

Patrika 2018-08-09 12:58:08

अमरीका ने रूस पर ब्रिटिश नागरिक की हत्या का प्रयास कनरे का आरोप लगाते हुए उस पर इलेक्ट्रॉनिक कंपोनेंट और अन्य प्रौद्योगिकीयों के निर्यात पर प्रतिबंध लगाया गया। ब्रिटेन की सरकार ने इसका स्वागत किया है।

वाशिंगटन। अमरीका ने रूस पर ब्रिटेन में रह रहे पूर्व रूसी जासूस की हत्या का प्रयास करने का आरोप लगाया है। वहीं, अमेरिका का कहना है कि ब्रिटेन में रह रहे पूर्व रूसी जासूस की हत्या के प्रयास को लेकर वह रूस पर प्रतिबंध लगाने जा रहा है। रूस ने इन आरोपों को गलत बताया है।

यह भी पढ़ें-थाईलैंड में भव्य राम मंदिर का निर्माण कार्य शुरू, राम जन्मभूमि न्यास बनवा रहा है मंदिर

रूस ने किया था रासायनिक हमला

बता दें कि सर्गेइ स्क्रिपल और उनकी बेटी यूलिया मार्च महीने में साल्सिबरी में एक बेंच पर बेहोशी की हालत में पाए गए थे। इस रासयानिक हमले में दोनों गंभीर रूप से बीमार पड़ गए थे। इसके बाद उन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया था, लेकिन अस्पताल में कई सप्ताह तक चले इलाज के बाद वे ठीक हो गए थे। ब्रिटेन की जांच में इस हमले के लिए रूस को जिम्मेदार ठहराया गया था, लेकिन रूस ने इसमें अपनी भागीदारी से इनकार किया था।

अमरीका ने रूप पर लगाया हमले का आरोप

अमरीकी विदेश विभाग ने बुधवार को जारी बयान में कहा कि इस घटना के लिए रूस जिम्मेदार है। विदेश विभाग की प्रवक्ता हीथर नॉअर्ट ने कहा कि यह सिद्ध हो गया है कि रूस ने अंतर्राष्ट्रीय कानून का उल्लंघन कर यह रासयानिक हमला किया था और अपने ही नागरिकों के खिलाफ लीथल केमिलकल और जैविक हथियार इस्तेमाल किए।

यह भी पढ़ें-गाजा के हमले के जवाब में इजरायल ने 12 आतंकवादी ठिकानों को बनाया निशाना

रूस पर लगेगा प्रतिबंध

वहीं, ब्रिटेन सरकार ने अमरीका के इस कदम का स्वागत किया है। बता दें कि रूस पर लगया गया नया प्रतिबंध 22 अगस्त के आसपास प्रभावी हो जाएगा। इसके अन्तर्गत रूस पर इलेक्ट्रॉनिक कंपोनेंट और अन्य प्रौद्योगिकीयों के निर्यात पर प्रतिबंध लगाया गया है। अमरीका विदेश विभाग ने कहा कि यदि रूस विश्वसनीय आश्वासन देने में असफल रहता है तो 90 दिनों के भीतर अधिक कड़े प्रतिबंध लगाए जाएंगे।