newsdog Facebook

बेमेतरा में सूखे का संकट, खरीफ फसल के लिए जल संसाधन विभाग ने लगाया सिंचाई शुल्क

Eenadu India 2018-08-09 23:51:00
बेमेतरा। जिले में कम वर्षा के कारण सूखे का आसार बन रहे हैं। वहीं जल संसाधन विभाग ने पानी की कमी को देखते हुए नदी-नालों से खरीफ फसल की सिंचाई के लिए 562 रुपये प्रति हेक्टेयर शुल्क लगा दिया है।

नदी।


बेमेतरा। जिले में कम वर्षा के कारण सूखे का आसार बन रहे हैं। वहीं जल संसाधन विभाग ने पानी की कमी को देखते हुए नदी-नालों से खरीफ फसल की सिंचाई के लिए 562 रुपये प्रति हेक्टेयर शुल्क लगा दिया है।


जल संसाधन विभाग के अधिकारियों ने बताया कि किसान  डीजल पंप या विद्युत कनेक्शन के जरिए इसका लाभ ले सकते हैं। वहीं पानी की कमी को देखते हुए 44 किसानों ने सिंचाई विभाग को आवेदन दिए हैं। इनमें से 39 आवेदन को विभाग ने स्वीकार कर लिया है। स्वीकार हुए आवेदनों में से अधिकांश आवेदन शिवनाथ नदी के किनारे रहने वाले किसानों के हैं।

पढ़ें:

इधर सूखे की आशंका के देखते हुए किसानों ने फसल का बीमा भी करा रखा है। कृषि विभाग के उप संचालक शशांक शिंदे ने बताया कि खरीफ सीजन के लिए जिले के 97 हजार 859 किसानों का बीमा हुआ है। जिसमें एक लाख 52 हजार 752 हेक्टेयर भूमि शामिल है। इस तरह बीमा राशि 161 करोड़ 65 लाख रुपए होगी। बीमा कंपनी को किसानों से11 करोड़ रुपए का प्रीमियम मिलने की संभावना हैं।