newsdog Facebook

इंडियन हॉकी टीम के पूर्व कप्तान सरदार सिंह ने अंतराष्ट्रीय हॉकी से लिया सन्यास

News Times India 2018-09-12 19:51:30

  • एशियाई खेलों में निराशाजनक प्रदर्शन के बाद युवाओ की जिम्मेदारी लेते हुएपूर्व इंडियन हॉकी के कप्तान सरदार सिंह ने आज अपने हॉकी करियर को अलविदा कहने का फैसला लिया. उन्होंने कहा 12 साल हो गए है हॉकी खेलते हुए अब बारी है युवाओ की जिम्मेदारी लेने की. सरदार ने कहा कि वह शुक्रवार को दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान अपने संन्यास की आधिकारिक घोषणा करेंगे. सरदार ने बातचीत के दौरान यह भी कहा कि उनके संन्यास लेने के पीछे फिटनेस या फिर कोई और वजह नहीं है वें बिलकुल फिट है बस उन्हें अपने जीवन में अब आगे बढ़ना है.

    दिलचस्प बात है कि जकार्ता में एशियाई खेलों के दौरान सरदार ने कहा था कि वह अभी हॉकी खेलना चाहते है और 2020 में टोक्यों में अपना आखरी ओलम्पिक खेल सकते है. और जब हॉकी इंडिया ने बुधवार को राष्ट्रीय शिविर के लिए 25सदस्यीय मजबूत कोर ग्रुप की घोषणा की, जिसमें उनका नाम शामिल नहीं था जिससे अटकलें लगाई जा रही हैं कि उन्हें संन्यास लेने के लिए बाध्य किया गया था.

    32साल के इस खिलाड़ी ने देश के लिए 350अंतरराष्ट्रीय मैच खेले और 2008से लेकर 2016तक आठ वर्षों तक राष्ट्रीय टीम की कप्तानी भी संभाली. उन्हें अर्जुन पुरस्कार और पद्म श्री जैसे सम्मान से भी नवाज़ा जा चुका है. 2 ओलम्पिक में देश को प्रेजेंट कर चुके सरदार को जब गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमंडल खेलों की टीम से बाहर किया गया था तब भी अपनी फिटनेस पर काम कर चैंपियंस ट्रॉफी के लिए शानदार वापसी की थी.

    सरदार हरियाणा के सिरसा से तालुकात रखते है और इन पर एक महिला ने रेप का आरोप भी लगाया था लेकिन इस पर जांच पड़ताल के बाद उन्हें क्लीन चीट दे दी गई थी.