newsdog Facebook

बड़ी खबर: अंडरग्राउंड कोल माइंस को बंद करने की तैयारी

Patrika 2018-09-14 10:58:13

विपिन श्रीवास्तव
छिंदवाड़ा/परासिया. वेकोलि के पेंच-कन्हान एरिया की भूमिगत कोयला खदानें नाममात्र का उत्पादन कर रही हैं। इसके चलते अधिकांश पर बंद होने का खतरा एक बार फिर मंडराने लगा है। यह संकेत मिल रहे हैं कि भूमिगत खदानों को बंद कर मेगा ओपन कास्ट प्रोजेक्ट शुरू करने के फैसले से।
दरअसल कोल इंडिया को बढ़ता घाटा परेशान कर रहा है। खुद वेकोलि को पिछले दो वर्षों में लगभग चार हजार करोड़ रुपए का घाटा हो चुका है। कोल इंडिया सुरक्षा एवं वित्तीय कारण का हवाला देते हुए 53 भूमिगत खदानों को बंद करने का संकेत दे चुका है। अब भूमिगत कोयला खदानों को ओपनकास्ट में बदलने का
काम खामोश तरीके से किया जा रहा है। छह माह के भीतर इसकी प्रोजेक्ट रिपोर्ट बनाने की
जवाबदारी इंडियन स्कूल ऑफ माइन को दी गई है, जिस पर काम शुरू हो गया है।

पेंच में तैयारियों में जुटे अधिकारी
पेंच क्षेत्र की शिवपुरी, विष्णुपुरी क्रमांक 1 एवं 2 भूमिगत खदान को मिलाकर मेगा ओपन कास्ट खदान खोलने की तैयारी चल रही है। इस प्रोजेक्ट को बिना किसी शोर शराबे के पूरा कर लिया गया है। हालांकि इस मेगा प्रोजेक्ट को प्रारंभ करने में प्रबंधन के सामने बाधाएं आएंगी। सबसे बड़ी समस्या मेन पावर को एडजस्ट करने की है। वर्तमान में इन तीनों खदानों में लगभग 750 कामगार कार्यरत हैं। ओपन कास्ट में आउटसोर्सिंग से काम होगा और इतने कामगारों का नियोजन संभव नहीं होगा। ऐसी स्थिति में इन कामगारों का स्थानांतरण अन्यत्र स्थानों पर किया जाएगा अथवा स्पेशल वीआरएस स्कीम जैसी योजना लाकर उन्हें सेवानिवृत किया जाएगा। दूसरी समस्या भू-अधिग्रहण तथा आबादी क्षेत्र के विस्थापन की है। इस मेगा प्रोजेक्ट के दायरे में कई आबादी वाली बस्तियां हैं, जहां से लोगों का पुर्नवास करना किसी चुनौती से कम नहीं होगा।


केवल उद्योगपतियों को फायदा
विष्णुपुरी कोयला खदानों में लगभग 24 मिलियन टन कोयले का रिजर्व स्टॉक है। वर्तमान तक मात्र तीस प्रतिशत कोयला ही निकाला गया है। प्रबंधन श्रम संगठनों को बिना विश्वास में लिए इस प्रोजेक्ट पर काम कर रहा है। इस प्रोजेक्ट से केवल उद्योगपतियों तथा पूंजीपतियों को फायदा होगा। केन्द्र एवं कोल इंडिया की नीतियों से यह क्षेत्र बरबाद हो जाएगा।
अलाउददीन खान, केन्द्रीय वरिष्ठ उपाध्यक्ष एचएमएस

पेंच के लिए वरदान
ओपन कास्ट मेगा प्रोजेक्ट को वेकोली बोर्ड ऑफ डायरेक्टर ने पास कर दिया है। जमीन क्लिरियेंस तथा अन्य औपचरिकता पूरी की जा रही हैं। इस पर तेजी से कम चल रहा है। यह प्रोजेक्ट पेंच के लिए वरदान साबित होगा।
सोहाग पंड्या, मुख्य महाप्रबंधक पेंच