newsdog Facebook

अकादमी पुरस्कार घोषित

Press Note 2018-09-14 11:06:40

उदयपुर| राजस्थान साहित्य अकादमी उदयपुर के 2018-19 के वार्षिक पुरस्कारों की घोषणा अकादमी अध्यक्ष डाॅ. इन्दुशेखर तत्पुरुष द्वारा कर दी गई है। अकादमी अध्यक्ष ने घोषित पुरस्कारों की जानकारी देते हुए बताया कि अकादमी का इस वर्ष का सर्वोच्च मीरा पुरस्कार राशि 75000 रुपये. श्री सवाईसिंह शेखावत, जयपुर को उनकी काव्य कृति निज कवि धातु बचाई मैंने पर घोषित किया गया है।

अकादमी का कविता विधा का सुधीन्द्र पुरस्कार, श्री रामनारायण मीणा, कोटा को उनकी कृति अभी उम्मीद बाकी है, कथा-उपन्यास विधा का डाॅ. रांगेय राघव पुरस्कार, श्री हरीदास व्यास, जोधपुर को उनकी कृति एक था पेड,़ नाटक विधा का देवीलाल सामर पुरस्कार, श्री उमेश कुमार चैरसिया, अजमेर को उनकी कृति शौर्य प्रधान नाटक, आलोचना विधा का देवराज उपाध्याय पुरस्कार, श्री मूलचन्द बोहरा, बीकानेर को उनकी कृति दो फलांग आगे, विविध विधाओं का कन्हैयालाल सहल पुरस्कार, श्री कमलानाथ, प्रवास मुम्बई को उनकी कृति साहित्य का ध्वनितत्व उर्फ साहित्यिक बिग बैंग तथा बाल साहित्य का शम्भूदयाल सक्सेना पुरस्कार, श्रीमती आशा शर्मा, बीकानेर को उनकी कृति अंकल प्याज पर घोषित किया गया है। ये सभी पुरस्कार 31-31 हजार रु. के हैं।

सुमनेश जोशी (प्रथम प्रकाशित कृति) पुरस्कार श्रीमती रश्मि पारीक, जयपुर को उनकी कृति परित्यक्त पृष्ठ पर घोषित किया गया है। यह पुरस्कार 21 हजार रु. का है।

अकादमी अध्यक्ष ने बताया कि अकादमी के नवोदित प्रतिभा प्रोत्साहन पुरस्कार के अन्तर्गत चन्द्रदेव शर्मा (कविता विधा) महाविद्यालय स्तरीय पुरस्कार, राजकीय मीरा कन्या महाविद्यालय, उदयपुर की छात्रा सुश्री शिल्पी कुमारी को तथा परदेशी पुरस्कार (कविता विधा) विद्यालय स्तरीय पुरस्कार, हिन्द जिंक विद्यालय, चित्तौड़गढ़ की छात्रा सुश्री तन्मयी वैष्णव को घोषित किया गया है। उक्त दोनों पुरस्कार 5-5 हजार रु. के हैं।

अकादमी सचिव डाॅ. विनीत गोधल ने बताया कि उक्त समस्त पुरस्कार 4 अक्टूबर को उदयपुर में आयोजित अकादमी के वार्षिक सम्मान समारोह के अवसर पर प्रदान किए जाएंगे।