newsdog Facebook

बाबरी के पक्षकार ने कहा भगवान राम के साथ माता सीता की भी प्रतिमा लगवाएं सीएम योगी

Patrika 2018-09-14 18:58:57

अयोध्या : अयोध्या में सरयू घाट के पास भगवान श्री राम की विशालकाय प्रतिमा के साथ माता सीता की भी प्रतिमा लगाने और इन विशाल प्रतिमाओं की प्रतिदिन पूजा और इनकी सुरक्षा के लिए नियमित स्टाफ नियुक्त करने की मांग अयोध्या में बाबरी मस्जिद मुकदमे के मुस्लिम पक्षकार इकबाल अंसारी ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से की है | पत्रिका टीम से ख़ास बातचीत के दौरान इकबाल अंसारी ने अपने विचार व्यक्त किये हैं | बताते चलें कि राम नगरी अयोध्या में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के द्वारा सरयू घाट पर भगवान श्री राम की 151 ऊंची प्रतिमा लगाये जाने की घोषणा की गयी है | इस योजना का शिलान्यास आने वाले दीपावली के पर्व से एक दिन पूरे श्री राम राज्याभिषेक कार्यक्रम के दौरान सीएम योगी आदित्यनाथ कर सकते हैं | प्रतिमा को लगाने के लिए सरयू घाट पर लगाने के लिए अभी तीन स्थानों को चयनित किया गया हैं. जिसको लेकर सम्बंधित विभाग के अधिकारियों का मंथन जारी है | वहीँ इस योजना को लेकर अयोध्या में बाबरी मस्जिद मुकदमे के मुस्लिम पक्षकार इकबाल अंसारी ने बड़ा बयान दिया है | श्री अंसारी ने कहा है कि भगवान श्री राम के साथ माता सीता की भी प्रतिमा लगाई जानी चाहिए |

इकबाल अंसारी ने कहा माता सीता के बिना भगवान राम और अयोध्या अधूरी है

मुस्लिम पक्षकार इक़बाल अंसारी ने पत्रिका टीम से खास बातचीत में बताया कि अयोध्या में भगवान राम की 151 फुट ऊँची प्रतिमा लगाईं जा रही हैं उसका इस्तकबाल करते हैं लेकिन अयोध्या में जितने भी मंदिर हैं सभी स्थानों पर भगवान श्री राम के साथ माता सीता की भी मूर्तियाँ विराजमान हैं यदि अब मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ को भगवान राम की याद आई हैं तो माता सीता की भी याद आनी चाहिए | इसलिए अयोध्या में भगवान राम की प्रतिमा लगाईं जा रही हैं तो माता सीता की भी प्रतिमा भी लगाई जानी चाहिए | भगवान श्री राम व अयोध्या नगरी माता सीता के बिना अधूरे हैं | हम सीएम योगी आदित्यनाथ से मांग करते हैं कि अयोध्या में सरयू घाट पर भगवान राम व माता सीता दोनों की प्रतिमा एक साथ लगाई जाये. श्री अंसारी ने यह भी कहा कि सरयू घाट के पास स्थापित की जाने वाली इस प्रतिमा की देख रेख के लिए पुजारी व साफ सफाई के लिए स्टाप को भी रखा जाये जिससे उस मूर्ति की सुरक्षा हो सके.