newsdog Facebook

भगवान केसरियानाथ के रथ की शोभायात्रा निकाली

Jhabua Live 2018-09-14 19:01:47

रितेश गुप्ता, थांदला
परम् पूज्य आचार्य देवेश अभिधान राजेन्द्रकोष के रचयिता कालिकाल कल्पतरु प्रभु श्रीमद् विजय राजेन्द्रसूरीश्वर मसा के दिव्य आशीर्वाद से एवं जिनशासन गौरव शुद्ध चरित्र पालक आचार्य देवेश परम् पूज्य श्रीमद् विजय जयानन्द सूरीश्वर मसा के पावन आशीर्वाद एवं आज्ञा से श्रीसंघ थांदला नगर में विराजित प.पू. शासन दीपिका प्रवर्तिनी गुरुवर्या मुक्तिश्रीजी मसा एवं पूज्य विदुषी साध्वीजी बसंतबाला श्रीजी मसा की सुशिष्या पूज्य साध्वी श्रीमुक्ति रत्ना श्रीजी मसा, साध्वी मुक्ति दर्शिता श्रीजी मसा, पु.साध्वी श्रीमुक्ति कृपाजी मसा के शुभ आशीष से चातुर्मास से चातुर्मास नित नये प्रसंगो से शिखरता की ओर अग्रसर है। इसी क्रम में तपश्चर्या का अद्भूत शंखनाद हुआ जिसमें 12 तपस्विओं रेखा कमल पीचा,पूर्णिमा रुपेश पोरवाल, श्रीकांता लुणावत, किरण छाजेड़, निता लोढ़ा, हंसा पीचा, विमल पीचा,प्रतीक पोरवाल, खुशी रखबचन्द्र लुक्कड़, पूजा श्रीमार, नेहा रवीन्द्र जैन, दिपाली रवीन्द्र जैन द्वारा सिद्धि के शिखर सिद्धितप का सामूहिक रुप से सुयशता पूर्वक पूर्णाहूति शनिवार को होगा। जिस हेतु मूर्ति पूजक जैन श्रीसंघ,सामूहिक सिद्धि तप परिवार एवं संपूर्ण चातुर्मास के लाभार्थी दायजी परिवार द्वारा तपस्वियों का सामूहिक वरघोड़ा निकाला जाएगा जो प्रात: 8.30 पर नयापुरा जैन मंदिर से निकलेगा। जिसमे ढोल-ताशे ,घोड़ा बग्घी मुख्य आकर्शण का केंद्र होंगे, जो कि नई मंडी पर पंहुचेगा जहां तपस्वियों का बहुमान, प्रवचन एवं स्वामी वात्सल्य का आयोजन किया जाएगा। प्रवचन उपरान्त समस्त तपस्वियों के सामूहिक पारणे किए जाएंगे। आयोजन हेतु तैयारीया पुर्ण हो चुकी है नवकार परिवार द्वारा इसी उपलक्ष्य में शुक्रवार शाम एक शाम दादा के नाम भजन संध्या का आयोजन भी किया।
तपस्वियों के लिए उमड़ा नगर
नगर में चातुर्मास के दौरान सकल जैन समाज के विभिन्न तपस्वी जनों द्वारा की जा रही उग्र तपस्या का बहुमान करने के लिए पूरा नगर उमड़ रहा है। इसी कड़ी में विधायक कलसिंह भाबर,नप अध्यक्ष बंटी डामोर,भाजपा जिला उपाध्यक्ष विश्वास सोनी, पूर्व विधायक वीरसिंह भूरिया, जनपद अध्यक्ष गेंदाल डामोर, नपा उपाध्यक्ष मनीष बघेल भाजपा युवा नेता रुसमाल चरपोटा, महेश नागर, अमित शाहजी, पारस तलेरा समेत बड़ी संख्या में जन प्रतिनीधि व समाज सेवकों एवं समाजजनों ने तपस्वियों का बहुमान किया व उनकी इस उग्र तपस्या हेतु साता पूछी। जैन श्वेताम्बर मूर्ति पूजक समाज पर्युषण पर्व का क्षमापना दिवस के साथ समापन पर विभिन्न धार्मिक कार्यक्रमो का आयोजन किया गया। प्रतिक्रमण उपरान्त समाजजनों ने एक दूसरे से मिक्क्षामी दुक्कड़ मांगी। पर्युषण पर्व के समापन के एक दिन पूर्व भगवान केसरियानाथ के रथ की शोभायात्रा निकाली गई।