newsdog Facebook

मोदी सरकार के एक फैसले से देश के सबसे ताकतवर नौकरशाह बने अजीत डोभाल

Pardaphash 2018-10-09 18:42:48
मोदी सरकार के एक फैसले से देश के सबसे ताकतवर नौकरशाह बने अजीत डोभालमोदी सरकार के एक फैसले से देश के सबसे ताकतवर नौकरशाह बने अजीत डोभाल

Ajit Doval To Be Most Powerful Bureaucrat In India As Goverment Plans To Revive Strategic Policy Group

नई दिल्ली। भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल को एक नई जिम्मेदारी दी गई है। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजित डोभाल अब देश के सबसे ताकतवार नौकरशाहों में से एक बन गए हैं। NSA के अलावा अब डोभाल को रणनीतिक नीति समूह (स्ट्रैटिजिक पॉलिसी ग्रुप, SPG) का सचिव बना दिया गया है।

इस ग्रुप का गठन 1999 में किया गया था। जिसका लक्ष्य बाहरी, आंतरिक और आर्थिक सुरक्षा के मामलों में नेशनल सिक्योरिटी काउंसिल (NSC) की मदद करना है। जिस दौरान इस ग्रुप का गठन किया गया था, तब कहा गया था कि इसका कैबिनेट सचिव ही इसके प्रमुख की भूमिका में रहेगा।

केंद्र सरकार की तरफ से 11 सितंबर को इसका नोटिफिकेशन जारी किया गया था, जबकि 8 अक्टूबर को आधिकारिक घोषणा की गई। इसी के साथ ही SPG की बॉडी में कुछ बदलाव किए गए हैं, जिनमें पहले 16 सदस्य की टीम को अब बढ़ा कर 18 सदस्य की कर दिया गया है। नए दो सदस्य नीति आयोग के चेयरमैन और कैबिनेट सचिव होंगे।

मोदी सरकार की ओर से एक पैनल का गठन किया गया है, जिसकी अध्यक्षता अजित डोभाल ही करेंगे। ये पैनल ही अब प्रधानमंत्री को राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दे पर सलाह देंगे। इस पैनल का काम सभी मंत्रालयों का समन्वय कर सुरक्षा को मजबूत करना है। एसपीजी के सदस्यों में नीति आयोग के उपाध्यक्ष, कैबिनेट सचिव, तीनों सेना प्रमुख, आरबीआई के गवर्नर, विदेश सचिव, गृह सचिव, वित्त सचिव और रक्षा सचिव शामिल होंगे।

इनके अलावा रक्षा उत्पादन तथा आपूर्ति विभाग के सचिव, रक्षामंत्री के वैज्ञानिक सलाहकार और कैबिनेट सचिवालय के सचिव भी इसमें होंगे। यही नहीं, राजस्व, आणविक ऊर्जा, अंतरिक्ष विभागों एवं इंटेलिजेंस ब्यूरो के शीर्ष अधिकारी भी पैनल में शामिल होंगे। अन्य मंत्रालयों और विभागों को भी आवश्यकता पड़ने पर बैठकों में आमंत्रित किया जाएगा। अजीत डोभाल ही एसपीजी की बैठक बुलाएंगे।

कौन हैं अजीत डोभाल

डोभाल, केरल कैडर के आइपीएस ऑफिसर हैं। साल 2005 में डोभाल इंटेलीजेंस ब्यूरो के डायरेक्टर पद से रिटायर हुए हैं। अजीत डोभाल की गिनती पहले से देश के प्रमुख नौकरशाहों में होती है। इस वक्त डोभाल राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार हैं। उन्हें प्रधानमंत्री मोदी का करीबी बताया जाता है। डोभाल करीब 7 साल तक समय तक भेष बदलकर पाकिस्तान में रहे थे और काफी जानकारियां इकट्ठी की थीं। यही वजह है कि पाकिस्तान वाले भी उनसे घबराते हैं। डोभाल को ‘इंडिया का जेम्स बॉन्ड’ भी कहा जाता है।

नई दिल्ली। भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल को एक नई जिम्मेदारी दी गई है। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजित डोभाल अब देश के सबसे ताकतवार नौकरशाहों में से एक बन गए हैं। NSA के अलावा अब डोभाल को रणनीतिक नीति समूह (स्ट्रैटिजिक पॉलिसी ग्रुप, SPG) का सचिव बना दिया गया है। इस ग्रुप का गठन 1999 में किया गया था। जिसका लक्ष्य बाहरी, आंतरिक और आर्थिक सुरक्षा के मामलों में नेशनल सिक्योरिटी काउंसिल (NSC) की मदद करना है।…