newsdog Facebook

राजमाता के बहाने महिला वोटरों को साधने की जुगत में भाजपा

Patrika 2018-10-10 23:38:01

विधानसभा चुनाव में भाजपा को अचानक राजमाता विजयाराजे सिंधिया की याद आ गई। हाल ही में भोपाल दौरे पर आए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भाजपा के कार्यकर्ता महाकुंभ में राजमाता सिंधिया की जयंती को धूमधाम से मनाने की बात कह गए थे।

इसके बाद से प्रदेश की भाजपा इकाई इस काम में जुट गई है। दरअसल राजमाता के बहाने भाजपा महिला वोटर्स में घुसपैठ करने की तैयारी कर रही है।

यही वजह है कि 125 वीं जयंती पर भाजपा मध्यप्रदेश के चुनावी समर में अपनी 6 फायरब्रांड नेत्रियों को मैदान में उतार रही है।
12 अक्टूबर को ये नेत्रियां प्रदेश के अलग-अलग शहरों में कमल शक्ति संवाद के जरिए महिला वोटरों से सीधे रूबरू होंगी।

भाजपा की नजर प्रदेश की पचास प्रतिशत वोटरों पर है और वे अपनी तेजतर्राट नेत्रियों के जरिए महिला वोटरों में सेंध लगाने की कोशिश कर रही है।

कमल शक्ति संवाद के लिए भाजपा ने केंद्रीय पेयजल मंत्री उमा भारती की ड्यूटी उनके गढ़ बुंदेलखंड के सागर में लगाई है।

वहीं केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी इंदौर में तो पार्टी की राष्ट्रीय प्रवक्त मीनाक्षी लेखी जबलपुर में महिलाओं से संवाद करेगी।

कमलनाथ के गढ़ छिंदवाड़ा में हार्डकोर हिंदु नेत्री और केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण राज्य मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति की ड्यूटी लगाई गई है।

वहीं उज्जैन में पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव सरोज पांडे और रीवा में यूपी की कैबिनेट मंत्री रीता बहुगुणा जोशी कमल शक्ति संवाद में शामिल होगी।

 

चाय के बाद रसोई पर चर्चा-
भाजपा महिला मोर्चा अब चाय पर चर्चा के बाद रसोई पर चर्चा का फार्मूला अपनाने जा रही है।

महिला मोर्चा की १२ से १६ अक्टूबर तक ग्वालियर के दिल्ली के बीच होने वाली मैराथन दौड़ के दौरान नेत्रियां रास्ते में पडऩे वाले ग्वालियर और मुरैना जिले के गांवों में पहुंचेगी और वहां घरों में महिलाओं के साथ रसोई पर चर्चा करके विधानसभा चुनाव के साथ ही मिशन २०१९ के लिए भी माहौल बनाएगी।

ग्वालियर से मुरैना के बीच रसोई पर चर्चा घरों में जाकर चर्चा करेंगे।