newsdog Facebook

मशरूम में छिपा है हमेशा यंग रहने का राज, इस तरह खाएं हैरान रह जाएंगे आप

Patrika 2018-11-07 13:47:03

खजुराहोः हर इंसान की यह चाहत होती है कि, वह हमेशा जवान रहे। उसे किसी तरह की बीमारी ना हो, वह कभी अपने कार्य के दौरान थके नहीं...वगैरह। लेकिन, यह भी एक कठौर सत्य है कि, जिस तरह व्यक्ति इस दुनिया में एक मासूम और कोमल शरीर लेकर आया है। उसी प्रकार उसे अपने जीवन के हर पड़ाव को पार करते हुए इस दुनिया से जाना है। एक पूर्ण उम्र जीने वाला व्यक्ति अपने बुढ़ापे को भी जाता है, जिसकी चाहत आमतौर पर लोगों को नहीं रहती। क्यौंकि, कोई नहीं चाहता कि, वह बूढ़ा हो। लेकिन, प्रकृति के इस नियम को बदला नहीं जा सकता। लेकिन हां, इसे धीमा ज़रूर किया जा सकता है। यानी आप अपनी जवानी को लंबे समय जी सकते हैं। अगर आप भी लंबे समय तक यंग और एनर्जेट‍िक रहना चाहते हैं, तो आज से ही मशरूम खाना शुरू कर दें।

कम कर देता है बुढ़ापा आने की रफ्तार

इसका सेवन किसी भी तरह से करना लभकारी होता है। सूप या सब्‍जी- जैसे भी चाहें इसका सेवन करने से शरीर को बड़े लाभ मिलते हैं। दरअसल, मशरूम में ऐसे एंटीऑक्सिडेंट की मात्रा काफी मात्र में होती है, जो बुढ़ापा आने की रफ्तार को कम करने के साथ ही स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मदद करते हैं। यह दावा एक अध्ययन में किया गया है। अनुसंधानकर्ताओं ने पाया कि मशरूम में बड़ी मात्रा में एर्गोथिओनिन और ग्लूटोथियोन मौजूद होता है और दोनों ही बेहद जरूरी एंटीऑक्सिडेंट होते हैं। इनकी संख्या मशरूम की प्रत्येक प्रजाति में अलग-अलग होती है।

शोध में साबित हुई बात

अमेरिकी की पेनसिल्वानिया स्टेट यूनिवर्सिटी के प्राध्यापक रॉबर्ट बीलमैन ने बताया कि मशरूम एंटीऑक्सिडेंट का सबसे बेहतर स्रोत है और मशरूम के कुछ प्रकारों में दोनों ही एक-साथ मौजूद होते हैं। उन्होंने बताया कि जब र्जा बनाने के लिए शरीर भोजन का इस्तेमाल करता है तब इसके कारण ऑक्सिडेटिव स्ट्रेस भी बनता है। शरीर में एंटीऑक्सिडेंट की फिर से पूर्ति कर इस ऑक्सिडेटिव स्ट्रेस से बचा जा सकता है। बता दें कि ये अध्ययन जर्नल फूड केमिस्ट्री में प्रकाशित हुआ है।