newsdog Facebook

यूगांडा में इबोला से बचने के लिए स्वास्थ्य श्रमिकों का टीकाकरण

Uttam Hindu 2018-11-08 10:57:15

कांपला(उत्तम हिन्दू न्यूज)- यूगांडा के स्वास्थ्य मंत्रालय ने विश्व स्वास्थ्य संगठन के समर्थन से इबोला वायरस रोग के खिलाफ काम करने वाले फ्रंटलाइन स्वास्थ्य श्रमिकों का टीकाकरण करना शुरू होगा।

देश के तोरोको जिले में गुरुवार से इसकी शुरूआत होगी। यह जिला लोकतांत्रिक गणतांत्रिक कांगो(डीआरसी) से की सीमा से जुड़ा है और यह वायरस फैलने के उच्च आशंका वाले पांच क्षेत्रों में शामिल है।

डीआरसी के कई क्षेत्रों में इबोला वायरस फैल रहा है। यहां काम रहे स्वास्थ्य श्रमिकों को सुरक्षा के लिए ‘आरवीएसवी-ईबोला’ टीके की 2100 खुराकें दी जायेंगी। इस विशेष टीके को वर्तमान में डीआरसी में दिया जा रहा है और यह जैयर प्रकार के इबोला वायरस के खिलाफ सकारात्मक परिणाम दिखा रहा है।

यूगांडा स्वास्थ्य श्रमिकों को यह टीका एहतियातन दे रहा है क्योंकि पिछली बार एक प्रसिद्ध डॉ. मैथ्यू लुकविया और कई स्वास्थ्य श्रमिक इबोला वायरस से पीड़ित रोगियों की देखभाल और उपचार करते समय इसकी चपेट मे आकर मर गये। 

आरवीएसवी-इबोला टीका व्यावसायिक रूप से लाइसेंस प्राप्त नहीं है लेकिन इसका उपयोग डीआरसी में फैले इबोला वायरस को रोकने के लिए सहानुभूति के तौर पर किया जा रहा है। इस टीके का प्रयोग मई-जुलाई 2018 में इक्वेट्योर प्रांत में इबोला से बचने के लिये किया गया था।

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400063000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें ।