newsdog Facebook

बुलंदशहर हिंसा में इंस्पेक्टर की मौत: 5 लोग गिरफ्तार, 27 के खिलाफ नामजद FIR दर्ज

Punjab Kesari 2018-12-04 09:00:24

बुलंदशहरः उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में गोकशी को लेकर हुई इंस्पेक्टर सुबोध कुमार समेत 2 लोगों की मौत के बाद पुलिस एक्शन मोड में दिखाई दी। पुलिस ने देर रात छापेमारी कर इस मामले में 5 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि 27 नामजद और 60 अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। मामले में बजरंग दल के जिला संयोजक योगेश राज को मुख्य आरोपी करार किया गया है।

एडीजी मेरठ जोन प्रशांत कुमार ने बताया कि मामले में 5 लोगों को अब तक गिरफ्तार किया जा चुका है। घटना के शेष नामजद और अज्ञात अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है। उन्होंने बताया कि फिलहाल घटनास्थल वाले क्षेत्र में पूरी तरह शांति है। हालांकि, एहतियात के तौर पर वहां पर अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया है। साथ ही उन्होंने बताया कि जांच के लिए एसआईटी का गठन किया गया है। इस जांच में यह पता लगाया जाएगा कि हिंसा क्यों हुई और क्‍यों पुलिस अधिकारी इंस्‍पेक्‍टर सुबोध को अकेला छोड़कर भाग गए।

एडीजी के मुताबिक, इंस्पेक्टर की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में उन्हें गोली लगने की पुष्टि हुई है। रिपोर्ट के मुताबिक गोली उनकी बाईं भौंह से होते हुए सिर के अंदर चली गई। उन्होंने बताया कि घटना में मारे गए सुमित के शव का भी पोस्टमार्टम हो गया है, जिसकी रिपोर्ट में उसकी मौत का कारण गोली लगना बताया गया है। इससे पहले आज सुबह दिवंगत सुबोध कुमार को पुलिस लाइन में अंतिम सलामी दी गई। इसके बाद उनके शव को अंतिम संस्‍कार के लिए उनके गृह जनपद एटा के लिए रवाना किया गया।

बुलंदशहर में गोकशी की अफवाह के बाद बवाल मच गया। इसमें पुलिस इंस्पेक्टर समेत दो लोगों की मौत हो गई। इस हिंसा में दो लोग जख्मी भी हुए हैं। यह हिंसा ऐसे वक्त हुई है जब क्षेत्र में 3 दिन से चल रहे मुस्लिम समुदाय के इज्तिमा का समापन था। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!UP CRIME NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें-

बुलंदशहर बवाल पर बोले अखिलेश- BJP के शासनकाल में यूपी हिंसा के दौर से गुजर रहा

NEXT STORY