newsdog Facebook

भिंडी खाने से होने वाले फायदे – एक बार अवश्य जाने

Sabkuchgyan 2018-12-05 22:08:33

भिंडी के बीजों को इकठ्ठा कर लें। इन्हें सुखाकर पीस लें। ये बीज प्रोटीनयुक्त होते हैं और उत्तम स्वास्थ्य के लिए बेहतर हैं। इस चूर्ण को बच्चों को खिलाने पर ये टॉनिक की तरह काम करेगा।


डायबिटीज के रोगियों को अक्सर भिंडी की अधकच्ची सब्जी खानी चाहिए। यदि हम ताजा हरी भिंडी का सेवन करते हैं तो डायबिटीज कंट्रोल में रहती है और यह समस्या दूर रहती है।

नपुंसकता दूर करने के लिए पुरुषों को कच्ची भिंडी को चबाने की सलाह दी जाती है। आदिवासी इलाकों के वैद्यों की मानें तो शारीरिक कमजोरी दूर करने के लिए भिंडी को बेहतर माना जाता है।

5 ग्राम भिंडी के बीजों का चूर्ण, 5 ग्राम इलायची, 3 ग्राम दालचीनी की छाल का चूर्ण और 5 दाने काली मिर्च लेकर अच्छी तरह से कूट लें। इस मिश्रण को रोजाना दिन में 3 बार गुनगुने पानी में मिलाकर लें। डायबिटीज में तेजी से फायदा होता है।

भिंडी को काटकर और लगभग आधा चम्मच नींबू के रस को अनार और भुई आंवला की पत्तियों के साथ एक गिलास पानी में डुबोकर रात भर रख दें। अगली सुबह सारे मिश्रण को अच्छी तरह से पीसकर रोजाना लगातार 2 बार सात दिनों तक लें। जानकारों के अनुसार, पीलिया जैसा घातक रोग इससे एक सप्ताह में ही नियंत्रित हो जाता है। बुखार और सर्दी-खांसी में भी यह दवा रामबाण है।

भिंडी के कट हुए सिरों को पीने के पानी में डुबोकर सारी रात रखें। सुबह खाली पेट इस पानी को पीएं। बाद में बचे भिंडी के हिस्सों को फेंक दिया जाना चाहिए। माना जाता है कि डायबिटीज नियंत्रण के लिए यह एक कारगर उपाय है।

करीब 50 ग्राम भिंडी को बारीक काटकर 200 मिली पानी में उबालें। जब यह आधा बच जाए तो इसे सिफलिस के रोगी को दें। एक महीने तक लगातार ये नुस्खा अपनाना चाहिए। इससे जल्द आराम मिल जाता है।


Jio 2 Smartphone  मोबाइल को 499 रुपये में खरीदने के लिए 
JIO Mini SmartWatch को 199 रुपये में खरीदने के लिए 
JioFi M2 को 349 रुपये में खरीदने के लिए 

Jio Fitness Tracker को 99 रुपये में खरीदने के लिए 


सभी ख़बरें अपने मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप-