newsdog Facebook

मिसाइलों की मारक क्षमता तय करने के लिए ईरान किसी से अनुमति नहीं लेगाः जहांगी

Gyan Hi Gyan 2018-12-07 12:25:41

मिसाइलों की मारक क्षमता तय करने के लिए ईरान किसी से अनुमति नहीं लेगाः जहांगी

जहांगीरी ने बल देकर कहा कि अमेरिका ईरानी तेल की बिक्री को शून्य तक पहुंचाने में सक्षम नहीं है।


ईरान के उपराष्ट्रपति ने कहा है कि तेहरान ने अपनी रक्षा के लिए मिसाइलों का निर्माण किया है और उसकी मारक क्षमता को निर्धारित करने के लिए वह किसी से अनुमति नहीं लेगा। इस्हाक़ जहांगीरी ने गुरूवार को एक साक्षात्कार में कहा कि ईरानी मिसाइलों को प्रतिरक्षा के लिए बनाया गया है।

साथ ही उन्होंने बल देकर कहा कि ईरान हर चुनौती का मुकाबला करेगा और अपनी ज़रूरत के हिसाब से मिसाइलों का निर्माण करेगा।

उपराष्ट्रपति ने विश्व के देशों द्वारा अमेरिकी नीतियों के मुकाबले में प्रतिरोध के महत्व पर बल देते हुए आशा जताई कि जापान सहित समस्त देश अपनी पूरी क्षमता का प्रयोग करेंगे ताकि वे अमेरिका की एकपक्षीय नीति के मार्ग की बाधा बन जायें और विश्व में अपनी स्वतंत्रता की रक्षा कर सकें।

जहांगीरी ने बल देकर कहा कि अमेरिका ईरानी तेल की बिक्री को शून्य तक पहुंचाने में सक्षम नहीं है। उन्होंने स्पष्ट किया कि ईरान ने अपने तेल की बिक्री के लिए नया रास्ता खोज लिया है यहां तक कि अगर ईरानी तेल के मुख्य खरीदार भी ईरान से तेल ख़रीदना कम कर दें।

जहांगीरी ने इसी प्रकार ईरान और जापान के मधुर संबंधों की ओर संकेत किया और कहा कि ईरान जापानी सरकार और इस देश की कंपनियों के साथ वार्ता के लिए तैयार है और अमेरिका के हस्तक्षेप के बिना दोनों देशों के मध्य व्यापारिक लेन- देन को जारी रखने के लिए नये मार्ग खोजने के लिए तैयार है।

इसी प्रकार ईरान के उपराष्ट्रपति ने अमेरिका द्वारा एक पक्षीय व ग़ैर कानूनी रूप से परमाणु समझौते से निकलने और विश्व के देशों द्वारा परमाणु समझौते के समर्थन की ओर संकेत किया और कहा कि परमाणु समझौते से निकल कर अमेरिका अकेला रह गया है और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर केवल जायोनी शासन और क्षेत्र की कुछ सरकारें ही अमेरिका का समर्थन रही हैं जबकि विश्व समाज उसके मुकाबले