newsdog Facebook

यूपी-उत्तराखंड में शराब ने ली 90 की जान, 10 प्वाइंट्स में जानिए इस घटना से जुड़ी हर बात

ABP News Hindi 2019-02-10 14:12:11

यूपी-उत्तराखंड में अवैध शराब से मरने वालों की संख्या 90 हो चुकी है. हालांकि अपुष्ट सूत्र इसे 100 के पार बता रहे हैं. सबसे पहले कुशीनगर से मौतों के मामले सामने आए थे और उसके अगले ही दिन सहारनपुर और रुड़की से ये मामले सामने आए.

यूपी-उत्तराखंड में अवैध शराब से मरने वालों की संख्या 90 हो चुकी है. हालांकि अपुष्ट सूत्र इसे 100 के पार बता रहे हैं. सबसे पहले कुशीनगर से मौतों के मामले सामने आए थे और उसके अगले ही दिन सहारनपुर और रुड़की से ये मामले सामने आए. आइए 10 प्वाइंट्स  में समझते हैं पूरे मामले को.

  1. सहारनपुर से 56 और कुशीनगर से 11 मौतों की खबर है जबकि हरिद्वार से 23 मौतों की खबर है. अभी ये संख्या और भी बढ़ सकती है क्योंकि कई लोग अभी भी अस्पताल में भर्ती हैं और उनका इलाज जारी है. सहारनपुर के कई लोगों का इलाज मेरठ मेडिकल कॉलेज में चल रहा है.

  2. दरअसल सहारनपुर के कुछ लोग सात फरवरी को एक अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए उत्तराखंड के रुड़की स्थित बालुपुर पहुंचे थे जिसके बाद उन्होंने जहरीली शराब का सेवन किया. इस घटना के बाद से पूरे इलाके में कोहराम मचा हुआ है और मातम का माहौल है.


  3. इस घटना के बाद हरकत में आई पुलिस ने कार्रवाई में उत्तर प्रदेश से 9,269 लीटर जबकि उत्तराखंड से 1,066 लीटर जहरीली शराब जब्त की है. उत्तर प्रदेश में कुल 215 लोगों को गिरफ्तार किया गया है जबकि 297 लोगों के खिलाफ मामले दर्ज किए गए हैं. उत्तराखंड में 49 मामले दर्ज किए गए हैं.

  4. आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश सरकार ने इस त्रासदी की मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दिए हैं और पुलिस और आबकारी विभाग के कई अधिकारियों को निलंबित कर दिया गया है. योगी ने साफ कहा कि अवैध शराब में लिप्त लोगों पर सख्त कार्रवाई की जाए भले ही वो किसी पार्टी से जुड़े हों.


  5. मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि आजमगढ़, हरदोई, बाराबंकी और कानपुर जैसे जिलों में जहरीली शराब से हुई मौतों की घटनाओं में सपा से जुड़े नेताओं को शामिल पाया गया था. वर्तमान मामले में किसी को बक्शा नहीं जाएगा और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

  6. योगी ने कहा कि पूर्व की घटनाओं के मद्देनजर इस बार भी हम किसी साजिश से इंकार नहीं कर सकते. योगी ने कहा कि उन्होंने उत्तराखंड के मुख्यमंत्री से बात की है और जहरीली शराब प्रकरण में ब्यौरा साझा करने को कहा है. उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में जहरीली शराब का एक रैकेट काम कर रहा है इसीलिए मैंने वहां के मुख्यमंत्री से बात की है.


  7. यूपी सरकार ने सभी मतकों के परिवारों को दो-दो लाख और जो लोग अस्पताल में भर्ती हैं उन्हें 50-50 हजार देने की घोषणा की है. पुलिस और प्रशासन लगातार इस मामले में काम कर रहा है और रिपोर्ट सीधे सीएम ऑफिस तक पहुंचा रहा है.

  8. हालांकि समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने यूपी सरकार पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा है कि योगी, यूपी को नहीं चला पा रहे हैं. उन्होंने ट्वीट भी किया- 70 लोगों की मौत की ज़िम्मेदार सिर्फ़ ज़हरीली शराब नहीं बल्कि दोनों प्रदेशों की भाजपा सरकार भी है. भ्रष्टाचार की वजह से अवैध शराब पर रोक लगाने की न तो भाजपा सरकारों की नीयत है और न कोई कारगर नियंत्रण.

  9. कांग्रेस के यूपी अध्यक्ष राज बब्बर ने भी इस मामले में यूपी सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि अवैध शराब से हुई इस घटना के लिए प्रदेश की योगी सरकार जिम्मेदार है. उन्होंने कहा कि सीएम योगी आदित्यनाथ को तुरंत इस्तीफा देना चाहिए.