newsdog Facebook

आईंस्टीन भी थे इस बीमारी के शिकार, ऑटिज्म के मरीजों के काम आ सकता है ये डाइट

Jansatta 2019-02-12 13:19:47
आईंस्टीन भी थी यह बीमारी (Source: Indian Express)

अलबर्ट आईंस्टीन एक महान वैज्ञानिक थे, साथ ही उनके सिद्धांत ने विज्ञान की दुनिया को बदल रखा था। लेकिन क्या आपको पता है कि यह महान इंसान ऑटिज्म के शिकार थे। आटिज्म या आटिज्म स्पेक्ट्रम डिसऑर्डर(ए एस डी) मानसिक अस्वस्थता के कारण होने वाला एक मानसिक विकार है। इस बीमारी के कारण उन्हें बहुत परेशानी का सामना भी करना पड़ा था। यदि आपको भी अपने बच्चे या किसी करीबी में यह लक्षण दिखते हैं तो आपको जल्द से जल्द इसका इलाज कराने की जरूरत है। ऑटिज्म के मरीजों के लिए कई ऐसे फूड्स हैं जो लाभकारी होते हैं। इन फूड्स को अपनी डाइट में नियमित रूप से शामिल करने से ऑटिज्म के लक्षण कम हो सकते हैं। आइए जानते हैं ऑटिज्म के मरीजों को डाइट में क्या शामिल करना चाहिए।

दही:
दही में मौजूद प्रोबायोटिक, मिनरल्स और विटामिन्स ऑटिज्म से ग्रसित मरीजों के लिए लाभकारी होता है। दही का सेवन एकाग्रता में सुधार करता है और मानसिक स्वास्थ्य बेहतर करता है।

प्याज:
प्याज में फॉलिक एसिड, फाइबर और विटामिन-सी होता है जो दिमाग को मजबूत करता है, साथ ही ऑटिज्म के लक्षणों को भी कम करने में मदद करता है। इसके अलावा प्याज का सेवन याददास्त को भी मजबूत करता है।

केला:
केला भी ऑटिज्म के मरीजों के लिए लाभकारी साबित हो सकता है क्योंकि इसमें पोटेशियम, फाइबर, प्रोटीन, फोलेट और विटामिन होता है जो दिमागी शक्ति को बेहतर करता है। साथ ही दिमाग से जुड़ी अन्य समस्याओं को भी कम करने में मदद करता है।

Also Read
  • लाल मिर्च दिला सकती है नाक से खून बहने की समस्या से छुटकारा, यूं करें इस्तेमाल
  • मिट्टी के बर्तन में खाना बनाने के होते हैं ये फायदे, शरीर को रखता है स्वस्थ

दाल:
दाल में प्रोटीन, फाइबर के साथ-साथ और भी कई स्वास्थ्य लाभ होते हैं जो मानसिक स्वास्थ्य को बेहतर करने के अलावा ऑटिज्म के लक्षणों को भी कम करने में मदद करता है। इसके अलावा दाल मानसिक विकार में भी सुधार करता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App