newsdog Facebook

महागठबंधन में सीट की डील फाइनल, फायदे में कांग्रेस, आरजेडी को तगड़ा घाटा !

Janman TV 2019-03-12 18:34:26


महागठबंधन में सीट की डील फाइनल हो गई है. सूत्रों के अनुसार, राजद 18 सीट और कांग्रेस 11 सीटों पर उम्मीदवार खड़े करेगी. शरद यादव की पार्टी लोकतांत्रिक जनता दल, उपेंद्र कुशवाहा की पार्टी रालोसपा और जीतन राम मांझी की पार्टी हम को तीन-तीन सीट मिलेंंगी. मुकेश सहनी की पार्टी वीआईपी को दो सीट मिलने की संभावना है, लेकिन राजद व कांग्रेस की सहयोगी चारों पार्टियों के एक-एक उम्मीदवार राजद या कांग्रेस के टिकट चुनाव लड़ेंगे.


शरद यादव, उपेंद्र कुशवाहा, जीतनराम मांझी और मुकेश सहनी को छूट होगी कि वे अपने एक उम्मीदवार दोनों में से किसी भी पार्टी से लड़ा सकते हैं. राजद अपने खाते से एक सीट सपा उम्मीदवार को दे सकती है.

माना जा रहा है कि झंझारपुर सीट से सपा के प्रदेश अध्यक्ष पूर्व केंद्रीय मंत्री देवेंद्र यादव के लिये राजद एक सीट छोड़ सकती है. सीट और उम्मीदवार पर अंतिम मुहर लालू यादव की सहमति के बाद ही लगेगी.

अब तक महागठबंधन की सीटों की संख्या को लेकर कई तरह के कयास लगाये जा रहे थे. जीतनराम मांझी कई बार अपनी चिंता भी सार्वजनिक रूप जाहिर कर चुके थे. एनडीए भी महागठबंधन में सीटों के विवाद पर मजाक उड़ा रहा था.

सीटों को लेकर महागठबंधन की किरकीरी के बीच संख्या पर आम सहमति बन गयी. भाजपा की रैली के पहले महागठबंधन ने सीटों की संख्या का बंटवारा कर विवाद टालने का प्रयास किया है. लालू यादव की मुहर लगते ही जल्द ही इस फॉर्मूले की आधिकारिक घोषणा होगी.

13 मार्च यानी कल दिल्ली में राहुल गांधी के साथ महागठबंधन के नेताओ की बैठक है. माना जा रहा है कि 14 को दिल्ली से ही इसकी आधिकारिक घोषणा हो सकती है. सूत्रों के अनुसार, कांग्रेस बिहार में 11 सीटों पर चुनाव लड़ेगी और ये सीटें हैं- औरंगाबाद, सासाराम, कटिहार, पूर्णिया, सुपौल, दरभंगा, समस्तीपुर, मुजफ्फरपुर, बेतिया, मुंगेर और किशनगंज.