newsdog Facebook

चुनाव से पहले स्मृति ईरानी के लिए बुरी खबर, राहुल गांधी के लिए आई बड़ी खुशखबरी.. इस उलटफेर से कांग्रेस में खुशी की लहर

Patrika 2019-04-14 11:23:21

लखनऊ. केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता स्मृति ईरानी अपनी मजेदार तस्वीरों के कारण हमेशा सुर्खियों में रहती हैं। वह खुद अपनी मजाक उड़ाने में पीछे नहीं रहती हैं। उस बार फिर स्मृति ईरानी सोशल मीडिया पर चर्चा बटोर रही है, लेकिन इसकी वजह मोटापा या उनकी तस्वीरें नहीं बल्कि उनकी डिग्री है। दरअसल स्मृति ईरानी के खिलाफ चुनावी हलफनामे में गलत जानकारी देने के आरोप में मामला दर्ज कराया गया है। यह मामला लखनऊ के कांग्रेस अल्पसंख्यक सेल के अध्यक्ष तौहीद सिद्दीकी ने दायर किया है। सिद्दीकी ने अपनी शिकायत में कहा कि स्मृति ईरानी ने 2014 के लोकसभा चुनाव के लिए अपना नामांकन शपथ पत्र चुनाव आयोग को सौंपा था, जिसमें कहा गया था कि उन्होंने 1994 में दिल्ली विश्वविद्यालय से बैचलर ऑफ कॉमर्स में अपनी डिग्री पूरी की थी, लेकिन अब 2019 के लोकसभा चुनाव के लिए अपने हलफनामे में यह उल्लेख किया गया है कि उन्होंने अपनी डिग्री पूरी नहीं की है।

केंद्रीय मंत्री पर चुनाव आयोग से झूठ बोलने का आरोप लगाते हुए, सिद्दीकी ने कहा कि उन्होंने चुनाव आयोग से झूठ बोला है और अपने झूठ का हलफनामा भी प्रस्तुत किया है जो पूर्ण रूप से जालसाजी प्रतीत होता है और विश्वासघात का कार्य है।' सिद्दीकी ने स्मृति ईरानी के खिलाफ उचित जांच और उचित कार्रवाई की मांग की है। उन्होंने मांग करते हुए कहा कि मैं आपके नोटिस लाना चाहता हूं कि मैं स्मृति जुबिन ईरानी के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर रहा हूं और आपसे अनुरोध करता हूं कि उनके खिलाफ उचित जांच करें और उचित कार्रवाई करें।