newsdog Facebook

फ़ेल होने के बाद ये लड़की घर से गई भाग, आज करती है बॉलीवुड पर राज

Janman TV 2019-05-12 16:52:33


बॉलीवुड एक ऐसी इंडस्ट्री है जहाँ अपनी पहचान बनाने में लोगों को कई साल लग जाते हैं. कई बॉलीवुड सितारे किसी की मदद से इस इंडस्ट्री में अपना नाम बनाते हैं. तो कई सितारे कड़ी मेहनत, लगन और अपने दम पर बॉलीवुड में अपनी अलग पहचान बनाते हैं. आज हम आपको उस एक्ट्रेस के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्होंने अपने दम पर बॉलीवुड जैसी बड़ी इंडस्ट्री में अपनी अलग पहचान बनाई. हम किसी और की नहीं बल्कि बॉलीवुड की बेहद खूबसूरत और जबरदस्त एक्ट्रेस कंगना रनौत की बात कर रहे हैं.



आपको बता दें कि कंगना रनौत का जन्म हिमाचल के सूरजपुर गाँव में एक राजपूत परिवार में 23 मार्च 1987 को हुआ था. कंगना रनौत ने बताया कि वह बचपन में बहुत जिद्दी थी और उनका बचपन से ही फैशन में रूचि थी और वह बचपन में ही अलग अलग फैशन का अपने पर प्रयोग करती थी. आपको बता दें कि कंगना ने अपनी शिक्षा चंडीगढ़ के एक स्कूल में की थी.


उनके माता-पिता कंगना को डॉक्टर बनाना चाहते थे और वह भी अपने माता-पिता का सपना पूरा करना चाहती थी लेकिन 12वीं क्लास के किसी एक विषय में फेल होने के कारण उन्होंने अपना इरादा बदल दिया और वह पढ़ाई छोड़कर दिल्ली में आकर रहने लगी. जिसकी वजह से उनके परिवार वालों से कंगना के सबंध बिगड़ने लगे.


उनके पिता नहीं चाहते थे कि कंगना का कैरियर खराब हो और कंगना भी अपना कैरियर को लेकर काफी परेशान थी. फिर उन्होंने मॉडलिंग एजेंसी से संपर्क किया और एजेंसी को कंगना का लुक काफी पसंद आया और फिर वह मॉडलिंग करने लगी. कंगना मॉडलिंग से भी काफी बोर हो गयी थी इसलिए उन्होंने मॉडलिंग छोड़ दी.


उसके बाद कंगना ने थिएटर में अपना कदम रखा और काफी शो भी किए. इतना ही नहीं उनके शो को दर्शकों ने काफी पसंद भी किया और उन्हें सलाह दी गयी की वह एक्टिंग मे अपनी किस्मत आजमाए. उसके बाद कंगना रनौत ने मुंबई के आशा चंद्रा ड्रीम स्कूल में 4 महीने तक एक्टिंग कोर्स किया.

कंगना उस समय बेहद मुश्किल दौर से गुजर रही थी, कंगना ने बताया कि वह कभी-कभी अचार में रोटी खाकर अपना गुजारा करती थी क्योंकि उन्होंने अपने घर वालों से कोई भी मदद लेने से साफ इनकार कर दिया था.उन्होंने मन में इरादा कर लिया था कि वह कुछ बनकर ही अपने परिवार से मिलेगी. आज कंगना जो कुछ भी हैं अपनी कड़ी मेहनत और अपने शानदार जज्बे की वजह से हैं.