newsdog Facebook

इग्लैंड में हो रहे वल्र्ड में शिवपुरी के अमृत को मिली बड़ी जिम्मेदारी, पढि़ए ये खास खबर

Patrika 2019-07-10 16:48:26

शिवपुरी. शहर की गांधी कॉलोनी में रहने वाले स्पोर्ट्स टीचर अमृत वाजपेयी इन दिनों चल रहे क्रिकेट के विश्वकप में अपनी भागीदारी निभा रहे हैं। इंग्लैंड के मेनचेस्टर में होने वाले मैचों में ओपनिंग सेरेमनी, फ्लैग सेरेमनी के अलावा मैच के बीच दर्शकों के मनोरंजन के होने वाले कार्यक्रमों को वाजपेयी व उनकी दस सदस्यीय टीम आयोजित कर रही है।

शिवपुरी में रहने वाले अमृत वाजपेयी सितंबर 2018 में एमएससी स्पोर्ट्स मैनेजमेंट एंड लीडरशिप का डिप्लोमा करने के लिए इंग्लैंड गए हैं। वे सितंबर 2018 से की कार्डिफ मेट्रोपोलिटन यूनिवर्सिटी कार्डिफ यूके, से यह डिप्लोमा कर रहे हैं। अपने कोर्स के बीच में ही क्रिकेट का विश्वकप इंग्लैंड में शुरू हुआ तो उनकी टीम ने मेनचेस्टर में होने वाले मैचों की जिम्मेदारी संभाल ली। अमृत ने बताया कि मैच शुरू होने से पहले खिलाडिय़ों के साथ जो छोटे-छोटे बच्चे खेल मैदान तक आते हैं, वे उनकी टीम ही तय करती है, इसके बाद फ्लैग सेरेमनी की जिम्मेदारी भी उनकी टीम की ही होती है। वाजपेयी का कहना है कि मैच के बीच में विभिन्न मनोरंजक आयटम जो अक्सर मैच के बीच में नजर आते हैं, उनका निर्धारण भी हमारी टीम ही करती है। ज्ञात रहे कि अमृत वाजपेयी शिवपुरी के एक निजी स्कूल में स्पोर्ट्स टीचर रहे और वे डेढ़ साल का एमएससी डिप्लोमा करने इंग्लैंड गए हैं।

यह भी पढ़ें : दोस्त के लिए गंवाया हाथ, दो साल बाद बीजिंग जीतकर लाया गोल्ड

शिवपुरी के लिए बड़ी उपलब्धि

शिवपुरी में स्कूल के बच्चों को खेल की टिप्स देने वाले अमृत वाजपेयी द्वारा विश्वकप में होने वाले विभिन्न आयोजनों में अपनी टीम के साथ भागीदारी करना, शिवपुरी के लिए एक बड़ी उपलब्धि है। क्योंकि जिन मैचों को पूरी दुनिया देख रही है, उसमें होने वाले विभिन्न आयोजनों में शिवपुरी के व्यक्ति की भागीदारी अपने आप में महत्वपूर्ण है।

आईसीसी की ओर से मिली जिम्मेदारी
इंग्लैंड के मेनचेस्टर ग्राउंड भारत के दो व कुल पांच मैच के बाद पहला सेमीफायनल भी यहां पर होना है। अमृत वाजपेयी की टीम को यह जिम्मेदारी आईसीसी (इंटरनेशनल क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड) की ओर से यूनिवर्सिटी का स्टूडेंट होने की वजह से दी गई है। जिस तरह एमबीए करने वाले को मार्केटिंग के लिए बाजार में भेजकर उनका प्रैक्टिकल लिया जाता है, ठीक उसी तरह यूनिवर्सिटी में डिप्लोमा करने वालों को विश्वकप में यह भूमिका निभाने के लिए चुना गया है।

भारतीय टीम के कोच रवि शास्त्री के साथ अमृत

दादा और सर जडेजा के साथ सेल्फी लेते हुए शिवपुरी के अमृत