newsdog Facebook

प्रकृति में समय बिताने से बेहतर रहता है हमारा स्वास्थ्य नहीं होती है कोई भी बीमारी

CricHindiNews 2019-07-12 00:00:00

पहले के  समय लोग अपना ज्यादा समय घर से बाहर प्रकृति के बीच बिताया करते थे जिसके कारण उनका जीवन लंबा और काफी अच्छा और स्वस्थ होता था । पर आज हम लोग चार दीवारी में बंद हो कर रहते हैं जिसके कारण हम न जीवन को जी पते हैं और अपने साथ न जाने कितनी बीमारियाँ भी पाल लेते हैं

प्रकृति के नजदीक रहने और बाहर समय बिताने से टाइप-टू मधुमेह, हृदय संबंधित बीमारियां, अकाल मौत और समय से पूर्व जन्म और लोगों में तनाव पैदा होने का खतरा कम होता है। इस अध्ययन में 20 देशों के 29 करोड़ लोगों के आंकड़ों को शामिल किया गया है। अध्ययन के अनुसार जहां लोग प्रकृति के ज्यादा नजदीक होते हैं, उनकी सेहत अच्छी होती है।

इस अनुसंधान में टीम ने प्रकृति के नजदीक रहने वाले लोगों की तुलना ऐसे लोगों से की जो हरे – भरे जगहों में कम ही रहते हैं।
तोहिग- बेनेट ने बताया कि हमने पाया कि हरे- भरे जगहों या इसके नजदीक रहना स्वास्थ्य लाभ से जुड़ा हुआ है। इससे टाइप – टू मधुमेह, हृदय संबंधित बीमारियां, अकाल मौत और समय से पूर्व जन्म सहित अन्य खतरे कम होते हैं और इससे नींद की अवधि बढ़ती है।

हरे- भरे जगहों या इसके नजदीक रहना स्वास्थ्य लाभ से जुड़ा हुआ है। इससे टाइप – टू मधुमेह, हृदय संबंधित बीमारियां, अकाल मौत और समय से पूर्व जन्म सहित अन्य खतरे कम होते हैं और इससे नींद की अवधि बढ़ती है। प्रकृति के नजदीक रहने और बाहर समय बिताने से टाइप-टू मधुमेह, हृदय संबंधित बीमारियां, अकाल मौत और समय से पूर्व जन्म और लोगों में तनाव पैदा होने का खतरा कम होता है। प्रकृति में समय गुज़ारना होता है बीमारियों के लिए सबसे बेहतर इलाज़