newsdog Facebook

नगालैंड सरकार जारी करेगी मूल निवासी प्रमाण-पत्र

Udaipur Kiran Hindi 2019-07-12 12:42:28

कोहिमा, 12 जुलाई (उदयपुर किरण). नगालैंड सरकार राज्य के मूल निवासियों के लिए मूल निवासी प्रमाण-पत्र जारी करेगी या प्रमाण-पत्र सरकार के पास दर्ज रिकॉर्ड के आधार पर किया जाएगा. इस आशय की अधिसूचना के संदर्भ में गुरुवार को नगालैंड सरकार के होम कमिश्नर आर रामाकृष्णन द्वारा जारी एक आदेश में कहा गया है कि रजिस्टर्ड आफ इंडीजीनस इनहैबिटेंट्स आफ नगालैंड (आरआईआईएन) बनाने की प्रक्रिया राज्य में शुरू की जा रही है. इस संबंध में 29 जून को अधिसूचना जारी किया जा चुका था.


सरकार द्वारा जारी की गई इस प्रकार की अधिसूचना को लेकर नगालैंड के सिविल सोसायटी तथा ट्राईबल होहो काफी खुश हैं. नगालैंड की जनता चाहती है कि नगालैंड के मूल निवासियों की अलग से पहचान की जा सके, ताकि इनके अस्तित्व को अक्षुण्ण रखा जा सके. आए दिन नगा जनजाति के अस्तित्व को लेकर अनेक प्रश्न चिह्न नगा संगठनों द्वारा लगाए जाते रहे हैं. इनका कहना है कि बाहर से नगालैंड में बड़ी संख्या में आ रहे लोगों की वजह से नगा समुदाय की पहचान आने वाले समय में संकट में पड़ सकती है. जिसे बचाने के लिए इस प्रकार के उपक्रम किए जाने चाहिए.


रजिस्टर आफ इंडीजीनस नगालैंड बनाने की मांग काफी लंबे समय से की जा रही थी. आखिरकार सरकार द्वारा इसकी औपचारिक घोषणा को लेकर इनके बीच जश्न का माहौल देखा जा रहा है.



 

Click & Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News