newsdog Facebook

रात्रि के अंतिम प्रहर में दवा खाएंगे रोगी, जानिए क्यों?

Patrika 2019-10-10 17:34:40

बेंगलूरु. किसी भी तरह की दवा या तो लोग सुबह खाते हैं, दोपहर में लेते हैं या रात में सोने के पहले सेवन करते हैं। लेकिन यह ऐसी दवा है जिसका सेवन रात्रि के अंतिम प्रहर में किया जाएगा। दादी धाम प्रचार समिति एवं मारवाड़ी सम्मेलन के संयुक्त तत्वावधान में बन्नरघट्टा नेशनल पार्क के सामने खाटू श्याम मंदिर परिसर में शरद पूर्णिमा के अवसर पर अस्थमा का दवा का नि:शुल्क वितरण किया जाएगा।

दादी धाम प्रचार समिति के अध्यक्ष शिवकुमार टेकड़ीवाल ने बताया कि भागपुर के डॉ. गोपालकृष्ण मिश्रा के संरक्षण में अस्थमा के रोगियों को चित्रकूट से मंगाई गई अरवा चावल की खीर बिना शुगर के नि:शुल्क वितरित की जाएगी। रात्रि के अंतिम प्रहर में रोगियों को दवा खिलाई जाएगी। इसके पहले दवा को कई घंटे तक खुले में रखा जाएगा। बताया जाता है कि चंद्रमा की रोशनी में खुले में रखे जाने से दवा के औषधीय गुण बढ़ जाते हैं।