newsdog Facebook

मयंक अग्रवाल के हेलमेट पर लगी खतरनाक गेंद

NEWS EXPRESS 24 2019-10-10 17:37:16

भारत व दक्षिण अफ्रीका (India and South Africa) के बीच पुणे में खेले जा रहे दूसरे टेस्‍ट में मुकाबला है। पहले दिन के शुरुआती घंटे में ही गेंद व बल्‍ले के बीच रोमांचक टक्‍कर देखने को मिली।प्रोटीयाज पेस तिकड़ी वर्नोन फिलेंडर (Vernon Philander), कगिसो रबाडा (Kagiso Rabada)और एनरिक नॉर्त्‍जे (Anrich Nortje) की गेंदों को पिच से बहुत ज्यादा मदद मिली।भारतीय सलामी जोड़ी रोहित शर्मा (Rohit Sharma) व मयंक अग्रवाल (Mayank Agarwal) को इनकी गेंदों का सामना करने में बहुत ज्यादा कठिन हुई। अपना पहला टेस्‍ट खेल रहे नॉर्त्‍जे की गेंदों की गति सबसे तेज रही। उन्‍होंने पहले ही ओवर में 150 किलोमीटर प्रतिघंटे के करीब गति से गेंदबाजी की। उनका सामना मयंक अग्रवाल कर रहे थे व एक बार तो अग्रवाल के बल्‍ले को छूकर गेंद पहली स्लिप और विकेटकीपर के बीच से निकल गई। नॉर्त्‍जे की पेस ने भारतीय बल्‍लेबाज को बहुत ज्यादा परेशान किया।

गेंद तेजी से आई व हेलमेट से टकराई
दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाज के दूसरे ओवर में मयंक अग्रवाल बाल-बाल बचे। नॉर्त्‍जे की गेंद बहुत ज्यादातेजी से आई व अग्रवाल के हेलमेट पर जाकर लगी व बाउंड्री के लिए चली गई। गनीमत रही कि गेंद हेलमेट के ऊपरी सिरे पर लगी जहां कोई खतरा नहीं था। हालांकि फिर भी सुरक्षा की दृष्टि से टीम इंडिया के फिजियो ने अग्रवाल की जाँच लेकिन वे फिट पाए गए।

गेंद को समझ नहीं पाए मयंक

नॉर्त्‍जे ने सटीक ढंग से छोटी गेंद डाली थी व अग्रवाल समय पर नीचे बैठ नहीं पाए। वे न तो शॉट बॉल को खेलने की पॉजीशन में थे व न ही ठीक से गेंद के उछाल को समझ पाए। ऐसे में गेंद उनके हेलमेट पर लगकर फाइन लेग बाउंड्री पर चौके के लिए चली गई।

148 किलोमीटर प्रतिघंटे की गति से गेंद आई और

एनरिक नॉर्त्‍जे की गेंद सिर पर खाने के बाद मयंक अग्रवाल ने अगली गेंद पर पलटवार किया व चौका लगाया। नॉर्त्‍जे ने पिछली वाली गेंद शॉर्ट डालने के बाद अगली गेंद पर फुल लैंथ पर ऑफ स्‍टंप के बाहर डाली। लेकिन मयंक इसे भांप गए व उन्‍होंने इसे कवर की दिशा में बाउंड्री के लिए रवाना कर दिया। पिछली गेंद पर हेलमेट पर गेंद लगने के बाद मयंक ने जबरदस्‍त शॉट लगाया व गेंदबाज को बेबस बना दिया। एनरिक नॉर्त्‍जे की यह गेंद 148 किलोमीटर प्रतिघंटे की गति से आई थी लेकिन भारतीय सलामी बल्‍लेबाज के आगे यह हमला नाकाम किया।

मयंक अग्रवाल के साथी रोहित शर्मा इस मैच में नाकाम रहे। वे 14 रन बनाकर कगिसो रबाडा की गेंद पर विकेट के पीछे क्विंटन डीकॉक को कैच दे बैठे।