newsdog Facebook

सीवर में सफाईकर्मी जहरीली गैस से हुए बेहोश, ठेकेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने की मांग

Patrika 2019-12-02 19:25:00

मेरठ। थाना भावनपुर अंतर्गत जयभीमनगर में सीवर की सफाई के दौरान जहरीली गैस के कारण दम घुटने से तीन सफाई कर्मचारी बेहोश हो गए। तीनों को गंभीर हालत में गढ़ रोड निजी अस्पताल में भर्ती कराया। जहां तीनों की हालत नाजुक बनी हुई है। जहरीली गैस से बेहोश हुए सफाई कर्मचारियों को ठीक तरह से चिकित्सा सुविधा नहीं मिलने का आरोप लगाते हुए सफाई कर्मचारियों ने अस्पताल के सामने हंगामा करते हुए धरना दिया।धरनारत सफाई कर्मचारियों का आरोप था कि घटना होने के बाद निगम या प्रशासन का कोई अधिकारी भर्ती कर्मचारियों को देखने नहीं पहुंचा। धरने पर बैठे सफाई कर्मचारियों ने चेतावनी दी कि जब तक कोई अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचेगा वे धरने से नहीं उठेंगे।

राजू, मोनू और ज्ञानेन्द्र सफाई कर्मी नगर निगम के ठेकेदार के अंतर्गत सीवर की सफाई का काम करते हैं। गत शनिवार शाम 5 बजे ठेकेदार द्वारा तीनों सफाई कर्मचारियों को जय भीमनगर में बंद सीवर को खोलने के लिए भेजा गया था। सीवर के भीतर से आवाज सुनकर लोगों की भीड़ एकत्र हो गई। इसी बीच मौके पर मौजूद ठेकेदार ने बेहोश सफाई कर्मियों को लोगों की मदद से सीवर के भीतर से निकलवाया।

इसके बाद ठेकेदार वहां से फरार हो गया। बेहोश सफाईकर्मियों को गढ़ रोड स्थित एक प्राईवेट अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां इलाज में लापरवाही का आरोप लगाते हुए अस्पताल पहुंचे सफाईकर्मियों ने हंगामा शुरू कर दिया। सफाईकर्मी अस्पताल के सामने धरने पर बैठ गए। धरने पर बैठे सपा नेता विनीत मनोठिया का आरोप था कि तीन सफाई कर्मी बीती शनिवार शाम से अस्पताल में भर्ती हैं। उनका ठीक तरह से इलाज नहीं हो रहा है। सफाई कर्मियों की मांग थी कि ठेकेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जाए और भर्ती सफाईकर्मियों को बेहतर इलाज दिया जाए।